मानवता के हित में काम करें, एक बार अवश्य रक्तदान करें

बिहारशरीफ। लायंस क्लब बिहारशरीफ के सदस्यों ने विश्व रक्तदाता दिवस के मौके पर रक्तदान करके उन जिदगियों को बचाने के लिए एक प्रयास किया है जिनकी आपातकाल में खून की अनुपलब्धता के कारण मृत्यु हो जाती है। स्थानीय रेडक्रॉस भवन में लायंस क्लब के रक्तदान शिविर में 15 लोगों ने रक्तदान किया।

JagranTue, 15 Jun 2021 12:10 AM (IST)
मानवता के हित में काम करें, एक बार अवश्य रक्तदान करें

बिहारशरीफ। लायंस क्लब बिहारशरीफ के सदस्यों ने विश्व रक्तदाता दिवस के मौके पर रक्तदान करके उन जिदगियों को बचाने के लिए एक प्रयास किया है जिनकी आपातकाल में खून की अनुपलब्धता के कारण मृत्यु हो जाती है। स्थानीय रेडक्रॉस भवन में लायंस क्लब के रक्तदान शिविर में 15 लोगों ने रक्तदान किया। इस अवसर पर लायंस क्लब के अध्यक्ष अतुल रस्तोगी और सचिव प्रमोद कुमार ने रक्तदान से होने वाले फायदे के बारे में विस्तृत चर्चा भी की। प्रोजेक्ट चेयरमैन पवन राज गुप्ता ने रक्तदान को महादान बताते हुए ज्यादा से ज्यादा लोगों को रक्तदान करने को प्रेरित किया। शिविर में अतुल रस्तोगी, प्रमोद कुमार, मधुलिका बिहारी, सुशील कुमार, प्रमोद कुमार अभिषेक, पवन राज गुप्ता विकाश कुमार मेघल आदि उपस्थित थे। रक्तदान करने वालों में स्मिथ कुमार, सरफराज अहमद, अतुल रस्तोगी, ऋषभ रंजन, राजकमल, अजीत कुमार, जितेंद्र कुमार, सुनील कुमार, पवन राज गुप्ता, विकास कुमार मेघल, सुशील कुमार, संजय कुमार, रोहित कुमार, कुंदन कुमार, रवि प्रकाश सिंह सहित सैकड़ों लोग शामिल थे।

रक्तदान से बड़ा कोई दान नहीं : प्राचार्य डॉ जितेंद्र

विश्व रक्तदान दिवस के अवसर पर 38 बिहार बटालियन एनसीसी बिहारशरीफ के यूनिट सरदार पटेल मेमोरियल कॉलेज के बैनर तले एक वेबिनार का आयोजन किया गया। विषय था'' रक्तदान के लाभ एवं हानि'' । उद्घाटन प्राचार्य डॉक्टर जितेंद्र रजक ने किया। मुख्य वक्ता सदर अस्पताल के डॉक्टर मरीचि माली रंजन थे। अध्यक्षता एनसीसी ऑफिसर लेफ्टिनेंट डाक्टर शशिकांत कुमार टोनी ने की। वेबिनार में लगभग 100 एनसीसी कैडेट के अलावा शिक्षक एवं कॉलेज के छात्र शरीक हुए।

प्राचार्य डॉ जितेंद्र रजक ने कहा कि हमारे एनसीसी के बच्चे रक्तदान करने में अग्रणी हैं। समय-समय पर कैंप लगाकर और जरूरत पड़ने पर ब्लड बैंक जाकर भी कैडेट रक्तदान करते रहते हैं। कहा, अगर अभी कॉलेज बंद न होता तो रक्तदान शिविर लगवाता। रक्तदान महादान है। डॉक्टर मरीचि माली रंजन ने कहा कि रक्तदान के सिर्फ लाभ ही लाभ हैं। हानि कुछ भी नहीं। 18 वर्ष से उपर के कोई भी विद्यार्थी रक्तदान कर सकते हैं। रक्तदान करने से कई तरह की जांच भी हो जाती है। जिससे उस बीमारी का पता समय रहते हो जाता है। शुगर, हृदय रोग समेत कई और बीमारियों को रोकने में रक्तदान कारगर है। एनसीसी ऑफिसर डॉ शशिकांत कुमार टोनी ने कहा कि हमारे कैडेट लोगों की मदद में हमेशा आगे रहते हैं। धन्यवाद ज्ञापन कॉलेज के अर्थशास्त्र के अध्यापक प्रोफेसर विशाल विजय ने किया। इस अवसर पर अधिवक्ता अमित कुमार, डॉक्टर तपन कुमार मजूमदार, सीनियर कैडेट बलवीर कुमार रवि कुमार राजीव कुमार राजेश कुमार ,राहुल , उत्पल कांत अभय, वरुण कुमार, अक्षय कुमार, अमरजीत कुमार, नीतीश पटेल दीपक कुमार सागर चौधरी सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.