युवक की मौत से आक्रोशित ग्रामीणों ने डाक्टर के खिलाफ निकाला कैंडल मार्च

युवक की मौत से आक्रोशित ग्रामीणों ने डाक्टर के खिलाफ निकाला कैंडल मार्च

गिरियक। पावापुरी निवासी अधिवक्ता अजीत कुमार के 25 वर्षीय इकलौते पुत्र मनीष कुमार की इलाज के दौरान हुई लापरवाही से मौत के विरोध में रविवार को आक्रोशित ग्रामीणों ने लॉकडाउन एवं शारीरिक दूरी का पालन करते हुए पावापुरी मोड़  से मुख्य मार्ग तक शांतिपूर्वक ढंग से कैंडल मार्च निकाला।

Publish Date:Sun, 09 Aug 2020 08:44 PM (IST) Author: Jagran

गिरियक। पावापुरी निवासी अधिवक्ता अजीत कुमार के 25 वर्षीय इकलौते पुत्र मनीष कुमार की इलाज के दौरान हुई लापरवाही से मौत के विरोध में रविवार को आक्रोशित ग्रामीणों ने लॉकडाउन एवं शारीरिक दूरी का पालन करते हुए पावापुरी मोड़  से मुख्य मार्ग तक शांतिपूर्वक ढंग से कैंडल मार्च निकाला। लोग हाथों में तख्ती लिए नारेबाजी करते हुए जांच की मांग की। मृतक के पिता अजीत कुमार  ने कहा कि बिहारशरीफ स्थित एक निजी क्लीनिक के डॉक्टर ने 3 दिनों तक उनके बेटे को आईसीयू में भर्ती कर न सिर्फ आर्थिक दोहन किया बल्कि उनकी लापरवाही से उनके बेटे की जान भी चली गई। जब उनके बेटे की हालत नाजुक हो गई तो रेफर कर दिया। उन्होंने कहा कि आरोपी डॉक्टर ने अपने कर्तव्यों का पालन नहीं किया  उन्होंने कहा कि पूरे मामले की जांच हो और उनके पुत्र मनीष को न्याय मिले । उन्होंने बताया कि उनका पुत्र एम.टेक करके जॉब में था।  उन्होंने कहा कि आरोपी डाक्टर को बख्शा नहीं जाए। उन्होंने कहा कि अगर 72 घंटे में उन्हें न्याय नहीं मिला तो वह अपने पत्नी संग एसपी कार्यालय के समीप जाकर आत्मदाह करेंगे। इस अवसर पर राष्ट्रीय जनतांत्रिक पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष विवेक शर्मा ने कहा कि आरोपी डॉक्टर ने इलाज में लापरवाही बरतने का काम किया है।  उन्होंने कहा कि  डॉक्टर द्वारा अत्याचार एवं शोषण किया जा रहा है। इस अवसर पर मार्च में मौजूद लोगों ने कहा कि एसपी से लेकर पुलिस महानिदेशक पटना, मुख्यमंत्री एवं प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर इस मामले की जांच करने की अपील की गई है। इस अवसर पर अधिवक्ता संजय कुमार,  श्याम किशोर सिह, मृत्युंजय कुमार, राहुल कुमार, मनोहर लाल, प्रिस राज एवं संदीप कुमार नावादा प्रत्याशी डॉक्टर आरपी साहू , सलाहकार बबलू शास्त्री गौरव कन्हैया सिंह निरंजन अमित कुमार पप्पू कुमार सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

--------------------------सुप्रीम कोर्ट की रूलिग के आधार पर ही होगी कार्रवाई: एसपी

मनीष की मौत के मामले में एसपी नीलेश कुमार ने कहा कि कुछ लोग दबाव डालकर आनन-फानन में कार्रवाई कराना चाहते हैं। परन्तु पुलिस दबाव के आगे झुकेगी नहीं। किसी भी डॉक्टर या नर्सिंग होम पर सुप्रीम कोर्ट की रूलिग के आधार पर ही कार्रवाई होगी। इसके लिए एक्ट भी बना हुआ है। लॉक डाउन में प्रदर्शन या कैंडल मार्च की अनुमति नहीं है। पावापुरी में कैंडल मार्च निकालने वालों पर कार्रवाई की जाएगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.