नालंदा से बेहतर जगह कहीं नहीं : मीनाक्षी

छठे अंतर्राष्ट्रीय धर्म-धम्म सम्मेलन में भाग लेने नालंदा वि वि पहुंची विदेश मंत्री मीनाक्षी लेखी ने कहा कि दौर चाहे किसी का भी हो सत्य हमेशा वही रहता है जो सत्य है। सत्य यही कि ग्रह हमेशा रहेगा लेकिन हम नहीं होंगे। प्राचीन नालंदा विवि ने जो ज्ञान दिया उसे अंतरराष्ट्रीय नालंदा विवि आने वाले भविष्य के लिए संवारेगा।

JagranTue, 09 Nov 2021 11:16 PM (IST)
नालंदा से बेहतर जगह कहीं नहीं : मीनाक्षी

रजनीकांत, बिहारशरीफ : छठे अंतर्राष्ट्रीय धर्म-धम्म सम्मेलन में भाग लेने नालंदा वि वि पहुंची विदेश मंत्री मीनाक्षी लेखी ने कहा कि दौर चाहे किसी का भी हो, सत्य हमेशा वही रहता है, जो सत्य है। सत्य यही कि ग्रह हमेशा रहेगा लेकिन हम नहीं होंगे। प्राचीन नालंदा विवि ने जो ज्ञान दिया, उसे अंतरराष्ट्रीय नालंदा विवि आने वाले भविष्य के लिए संवारेगा। नालंदा विवि के भग्नावशेष को देखकर मैं काफी अभिभूत हूं। नालंदा नाम ही काफी है। नालंदा ज्ञान, संस्कृति व संस्कारों का वाहक रहा है। ऐसा नहीं है कि हमारे जाने के बाद सब रुक जाएगा। कोई और आएगा और हमसे भी बेहतर करेगा। जीवन की सच्चाई मानव कल्याण से जुड़ी है। भगवान बुद्ध व भगवान महावीर ने अहिसा का ज्ञान दिया, करुणा व प्रेम करना सिखाया। भागवत गीता का एक श्लोक है ' यदा-यदा ही धर्मस्य' जिसका मतलब है, जब-जब अधर्म हावी होगा मैं पृथ्वी पर आऊंगा और अधर्म का नाश करूंगा। लोगों को गलत रास्ते से सही रास्ते पर लेकर जाऊंगा। आज देश में लगता है कि देश को सही रास्ते पर ले जाने वाले सकारात्मक ऊर्जा के साथ मानव कल्याण के लिए एक शक्ति का जन्म हुआ है।

... कोरोना कहां से आया उस पर बात नहीं ... कोरोना ने बहुत कुछ समझाया है। यह वायरस है। कहां से आया उस पर बात नहीं करूंगी लेकिन सत्य यही है, वायरस हमेशा रहता है। जब तक शरीर में वह जिदा है, उसका अस्तित्व है, बाहर आने पर वह धूल के समान है। आज जिस तरह भारत ने मजबूती से इस महामारी से मुकाबला किया और सरकार ने जिस तरह वैक्सिनेशन के बूते लोगों की जिदगी बचाई, यह किसी से छिपी नहीं है। लोगों को समझना होगा जीवन व प्रकृति दोनों की अहमियत समान है। जिस दिन लोग इस बात को समझ जाएंगे, प्रकृति सुरक्षित हो जाएगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.