नालंदा में लोकायन नदी ने तीन जगह तटबंध तोड़ा, सैकड़ों घरों में घुसा पानी

बिहारशरीफ। हिलसा करायपरसुराय एवं एकंगरसराय प्रखंड के पश्चिमी क्षेत्र में हमेशा तबाही मचाने वाली लोकायन नदी ने शनिवार की रात से तबाही मचानी शुरू कर दी है। शनिवार को दोपहर बाद उफान पर आई लोकायन नदी के तटबंध में शनिवार की रात में तीन स्थानों पर बड़ा कटाव हो जाने से हिलसा करायपरसुराय एवं एकंगरसराय प्रखंड की एक दर्जन पंचायत बाढ़ की चपेट में आ गई हैं।

JagranSun, 01 Aug 2021 11:24 PM (IST)
नालंदा में लोकायन नदी ने तीन जगह तटबंध तोड़ा, सैकड़ों घरों में घुसा पानी

बिहारशरीफ। हिलसा, करायपरसुराय एवं एकंगरसराय प्रखंड के पश्चिमी क्षेत्र में हमेशा तबाही मचाने वाली लोकायन नदी ने शनिवार की रात से तबाही मचानी शुरू कर दी है। शनिवार को दोपहर बाद उफान पर आई लोकायन नदी के तटबंध में शनिवार की रात में तीन स्थानों पर बड़ा कटाव हो जाने से हिलसा, करायपरसुराय एवं एकंगरसराय प्रखंड की एक दर्जन पंचायत बाढ़ की चपेट में आ गई हैं। पूरा इलाका जलमग्न है और सैकड़ों घरों में पानी घुस गया है। कई दर्जन कच्चे मकान ढह गए हैं। लोगों का अनाज भी पानी में डूब जाने से बर्बाद हो गया है। अभी तक राहत के नाम पर प्रशासन की ओर से लोगों को पॉलिथीन शीट उपलब्ध कराई जा रही है। जबकि सरकार ने बाढ़ से बचाव को लेकर पहले से ही अधिकारियों को पूरी तैयारी रखने का निर्देश था।

........... इनसेट के लिए

हिलसा प्रखंड में दो जगहों पर टूटा लोकायन का तटबंध

............ उफनाई लोकायन नदी ने हिलसा प्रखंड में सर्वाधिक तबाही मचाई है। शनिवार की रात में कुसेतागढ़ पर गांव से 400 मीटर उत्तर लोकायन नदी के पश्चिमी तटबंध में 100 फीट लंबा कटाव हो गया है। जिससे नदी की पूरी धारा ही पश्चिम की ओर मुड़ गई है। फलस्वरूप हिलसा प्रखंड का कोरावां एवं चिकसौरा पंचायत, एकंगरसराय प्रखंड का मंडाछ पंचायत पूरी तरह से जलमग्न हो गया है। रविवार की शाम में चिकसौरा बाजार में भी बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है। बाजार की कई दुकानों में पानी घुस गया है। चिकसौरा-हिलसा मेन रोड पर जमुआरा गांव के पास नदी का पानी चढ़ गया है। करायपरसुराय प्रखंड की गोंदू बीघा पंचायत के भी कई गांव में इस कटाव से प्रभावित हुआ है। बांस बिगहा - घाना बिगहा सड़क पर मंडाछ एवं घाना बिगहा के बीच में दो फीट पानी का बहाव हो रहा है। इस सड़क में भी कुसेता गांव के पास बड़ा खाड़ हो गया है। इन पंचायतों के दर्जनों गांव के घरों में पानी घुस गया है। दर्जनों लोगों के मिट्टी का घर गिर गया है। हिलसा प्रखंड के मिर्जापुर पंचायत में महेशपुर गांव से उत्तर एवं भूषण बिगहा के सामने लोकायन नदी के पूर्वी तटबंध में हथिया पुल के पास रविवार की रात में 50 फीट लंबा कटाव हो गया। जिससे मिर्जापुर, रेड़ी पंचायत के दर्जनों गांव में बाढ़ का पानी घुस गया है। यहां से पानी का तेज बहाव कावा पंचायत में हो रहा है। मिर्जापुर पंचायत के महेशपुर गांव में सुरेंद्र प्रसाद, अनिल कुमार, राजेंद्र प्रसाद, ओम राम, धर्मेंद्र यादव के घर गिर गए हैं। करायपरसुराय प्रखंड के सांध पंचायत के बेरमा गांव के पुल के पास लोकायन नदी के पश्चिमी तटबंध में रविवार की रात में ही बड़ी दरार पड़ गई थी। जिससे बेरमा, जलालपुर, छितर विगहा, मेढमा, गुलरिया विगहा, खालिमचक समेत दर्जनों गांव जलमग्न हो गया है।

............ इनसेट के लिए

.......

अधिकारी कर रहे बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा

नालंदा के वरीय उपसमाहर्ता नौशाद अहमद, जिला आपदा प्रभारी अभिषेक कुमार, हिलसा के अनुमंडल पदाधिकारी राधाकांत, डीसीएलआर कृत्यानंद रंजन, बीडीओ प्रिया कुमारी, सीओ मदन शर्मा समेत तमाम अधिकारी रविवार को पूरे दिन बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने में रहे। नौशाद अहमद ने बताया कि बाढ़ आपदा से निपटने के लिए शासन मुस्तैद है। लोकायन नदी के जलस्तर पर बराबर नजर रखी जा रही है। तटबंध की 24 घंटे निगरानी की जा रही है। वहीं जिला आपदा प्रभारी ने बताया कि बाढ़ पीड़ित परिवारों को पालीथीन की चादरें दी जा रही हैं।

.......... इनसेट के लिए

विधायक ने भी किया बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा

..........

हिलसा के विधायक कृष्ण मुरारी उर्फ प्रेम मुखिया ने भी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर जायजा लिया है। उन्होंने कहा कि लोकायन नदी में आई बाढ़ के कारण हिलसा विधानसभा क्षेत्र के पश्चिमी भाग में व्यापक क्षति हुई है। रोपे गए धान पूरी तरह से बर्बाद एवं काफी संख्या में कच्चे मकान बाढ़ से ध्वस्त हो गए हैं। उन्होंने बाढ़ से प्रभावित परिवार को राहत सामग्री वितरित कराने का आश्वासन दिया। कहा कि टूटे हुए तटबंध की जल्द ही मरम्मत करा दी जाएगी।

.......... इनसेट के लिए

सामाजिक न्याय मंच ने राहत कार्य चलाने की मांग

,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

सामाजिक न्याय मंच के प्रधान महासचिव रामजी यादव ने हिलसा विधानसभा क्षेत्र के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में पीड़ित परिवारों के बीच शीघ्र ही राहत कार्य शुरू कराने की मांग जिलाधिकारी से की है। उन्होंने कहा कि दूरभाष से जिलाधिकारी को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों की जानकारी दी है। बाढ़ से एक दर्जन पंचायतों में व्यापक क्षति हुई है। इनसेट के लिए

सांध पंचायत का दर्जनों गांव जलमग्न

संवाद सूत्र, कराय परसुराय:

लोकाइन नदी में बेरमा के पास खाड़ हो जाने से सांध पंचायत का दर्जनों गांव बाढ़ के पानी से घिर गया है। बेरमा, छितरविगहा के मुसहरी टोली के लोगों के घरों में बाढ़ का पानी घरों में घुस गया। एसडीओ राधाकांत, आपदा प्रभारी अभिषेक कुमार, डीसीएलआर कृत्यानंद रंजन, बीडीओ नीलेश कुमार, सीओ अभय कुमार, प्रभारी थानाध्यक्ष विधानचंद्र , बाढ़ नियंत्रण जल पथ के अभियंता, मुखिया संघ की अध्यक्ष किरण कुमारी ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया है। नदी के तट पर तैनात किए गए चौकीदार लगातार नजर रखे हुए हैं। सूत्रों ने बताया है कि प्रखंड के वेरमा ,छितरबिगहा ,छितरबिगहा महादलित टोला के संतोष सिंह, गुजु सिंह, कामेश्वर मांझी, गणेश मांझी, सरयुग मांझी के घरों में बाढ़ का पानी घरों में घुस गया है। अवधेश सिंह,राजीव सिंह, संजीव सिंह,कारु सिंह ने बाढ़ आपदा प्रभारी, अनुमंडल पदाधिकारी राधाकांत से सभी तरह की सुविधा दिलाने की मांग कर रहे हैं। इनसेट के लिए

बेरमा में लगे प्रशासन विरोधी नारे

संवाद सूत्र, कराय परसुराय।

ग्रामीणों द्वारा प्रशासनिक अधिकारियों को सूचना दिए जाने के कई घंटे बाद बेड़मा गांव पहुंचे अधिकारियों को ग्रामीणों के विरोध का सामना करना पड़ा। जानकारी के अनुसार ग्रामीणों ने प्रशासनिक पदाधिकारियों को शनिवार को 12 बजे दिन में सूचना दिया था। लेकिन सात बजे के बाद हरकत में आया प्रशासन था। काफी देर बाद

बेरमा गांव में पहुंचे एसडीओ, बीडीओ, सीओ के खिलाफ लोगों ने मुर्दाबाद का नारा भी लगाया।

ग्रामीण अवधेश सिंह, कारू सिंह , संजीव कुमार सिंह, राजीव सिंह ने बताया कि सरकार के तरफ से अभी तक कोई भी सहायता नहीं दी जा रही है चिकसौरा बाजार में भी घुसा बाढ़ का पानी

संवाद सूत्र, चिकसौरा (नालंदा)।

पिछले 4 दिनों से रुक-रुक कर हो रही लगातार बारिश के कारण चिकसौरा थाना क्षेत्र से होकर गुजरने वाली लोकाई नदी में पानी का जलस्तर काफी बढ़ गया है। इसके कारण क्षेत्र के दर्जनों गांव जलमग्न हो गया है। चिकसौरा हिलसा मुख्य सड़क मार्ग पर बाजीतपुर मराठी रेडी गांव के पास सड़क पर बाढ़ का पानी बह रहा है। इसी

प्रकार बाढ़ का पानी से थाना क्षेत्र के कुसेता सोहरापुर, पचासा पर, महेशपुर समेत दर्जनों गांव जलमग्न हो गया है। नालंदा के एडीएम ने आज कुसेता सोहरा पुर, पचासा पर, महेशपुर , बाजीतपुर, मराची , रेडी, चिकसौरा समेत अन्य गांव का भ्रमण कर बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का जायजा लिया। एडीएम ने स्थानीय प्रशासन को इस पर नजर रखने तथा बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र के लोगों को सहायता करने का निर्देश दिया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.