80 साल के बुजुर्ग व कोरोना संक्रमित पोस्टल बैलेट से करेंगे मतदान

80 साल के बुजुर्ग व कोरोना संक्रमित पोस्टल बैलेट से करेंगे मतदान
Publish Date:Wed, 23 Sep 2020 07:01 PM (IST) Author: Jagran

बिहारशरीफ। जिला निर्वाचन पदाधिकारी योगेंद्र सिंह ने आगामी विधानसभा चुनाव पूर्व तैयारी की समीक्षा को लेकर विभिन्न कोषांग के वरीय एवं नोडल पदाधिकारियों के साथ एक बैठक की। चुनाव में कोविड-19 के संक्रमण की स्थिति को देखते हुए 80 वर्ष से अधिक आयु के मतदाता, पीडब्ल्यूडी श्रेणी के मतदाता, गर्भवती महिलाएं एवं कोविड-19 से संक्रमित मतदाताओं के लिए पोस्टल बैलेट के माध्यम से मतदान का विकल्प भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दिया गया है। पोस्टल बैलेट कोषांग को इन सभी श्रेणी के मतदाताओं को संबंधित निर्वाची पदाधिकारी के स्तर से इस आशय की जानकारी देते हुए पोस्टल बैलेट के माध्यम से मतदान की संपूर्ण प्रक्रिया के बारे में जानकारी युक्त पेंपलेट, पत्र भेजने का निर्देश दिया गया। इसका उद्देश्य यह है कि सभी अहर्ता प्राप्त मतदाताओं को इस व्यवस्था के बारे में पहले से जानकारी हो तथा अपनी इच्छा के अनुसार वह पोस्टल बैलेट के विकल्प को चुनते हुए आवश्यक प्रक्रिया का अनुपालन ससमय कर सकें। पीडब्ल्यूडी कोषांग को सभी सहायक निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी एवं बीएलओ के माध्यम से सभी पीडब्ल्यूडी श्रेणी के मतदाताओं को मतदाता सूची में चिह्नित करने की कार्रवाई सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया। अभी तक लगभग 15500 पीडब्ल्यूडी मतदाताओं को मतदाता सूची में चिन्हित किया गया है। सूची के आधार पर जरूरतमंद मतदाताओं के लिए व्हीलचेयर की टैगिग संबंधित बूथ के साथ सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया। वाहन कोषांग को विभिन्न श्रेणी के वाहनों की व्यवस्था कोविड-19 के लिए लागू गाइडलाइन के अनुरूप सुनिश्चित करने को कहा गया। प्रशिक्षण कोषांग को प्रथम चरण के प्रशिक्षण में किसी कारण से छूट गए कर्मियों के लिए अलग से प्रशिक्षण की व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा गया। कोविड-19 कोषांग को सभी कर्मियों को कोविड-19 से संबंधित गाइडलाइन के बारे में जानकारी देने की व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा गया। नामांकन कोषांग को सभी आवश्यक प्रपत्र का समय से मुद्रण की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया। सामग्री कोषांग को विभिन्न सामग्रियों की सूची के साथ-साथ उसके उपयोग की जानकारी से युक्त एक पंपलेट सामग्री किट के साथ मतदान दल को उपलब्ध कराने की व्यवस्था करने को कहा गया। सभी मतदान केंद्र पर उपलब्ध सुनिश्चित न्यूनतम मूलभूत सुविधा (एएमएफ) का भौतिक सत्यापन करते हुए कमियों को समय पर दूर करने का निर्देश दिया गया। बैठक में पुलिस अधीक्षक, उप विकास आयुक्त, अपर समाहर्ता सहित विभिन्न कोषांग के वरीय एवं नोडल पदाधिकारी उपस्थित थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.