10 करोड़ से जिला होमगार्ड समादेष्टा कार्यालय एवं आवासीय परिसर का होगा निर्माण

10 करोड़ से जिला होमगार्ड समादेष्टा कार्यालय एवं आवासीय परिसर का होगा निर्माण

बिहारशरीफ। जिला होमगार्ड समादेष्टा का कार्यालय वर्तमान में पुराने जेल परिसर की जमीन पर पुराने भवन संरचना में चल रहा है। इसी स्थल पर जिला होमगार्ड समादेष्टा के नए कार्यालय एवं आवासीय परिसर का निर्माण लगभग 10 करोड़ रुपए की लागत से कराया जा रहा है। निर्माण कार्य बिहार पुलिस भवन निर्माण निगम राजगीर प्रमंडल राजगीर द्वारा कराया जा रहा है।

JagranSat, 30 Jan 2021 12:20 AM (IST)

बिहारशरीफ। जिला होमगार्ड समादेष्टा का कार्यालय वर्तमान में पुराने जेल परिसर की जमीन पर पुराने भवन संरचना में चल रहा है। इसी स्थल पर जिला होमगार्ड समादेष्टा के नए कार्यालय एवं आवासीय परिसर का निर्माण लगभग 10 करोड़ रुपए की लागत से कराया जा रहा है। निर्माण कार्य बिहार पुलिस भवन निर्माण निगम राजगीर प्रमंडल, राजगीर द्वारा कराया जा रहा है।

जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह ने शुक्रवार को कार्य स्थल का निरीक्षण किया तथा निर्माण एजेंसी को अविलंब कार्य प्रारंभ कर निर्धारित समय सीमा के अंतर्गत पूर्ण कराने का निर्देश दिया।

इस अवसर पर जिला होमगार्ड समादेष्टा, काराधीक्षक बिहारशरीफ, कार्यपालक अभियंता पुलिस भवन निर्माण निगम, राजगीर कार्यप्रमंडल, राजगीर सहित निगम के अन्य अभियंता एवं पदाधिकारीगण उपस्थित थे। डीएम पहुंचे राइस मिल, चावल की गुणवत्ता परखी

बिहारशरीफ। डीएम योगेंद्र सिंह ने शुक्रवार को विभिन्न राइस मिल एवं पैक्स गोदाम का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने मां दुर्गा राइस मिल भुई रोड, पैक्स गोदाम भुई, पैक्स राइस मिल भुई, मे. राधिका राइस मिल नीरपुर, पैक्स गोदाम एवं पैक्स राइस मिल नीरपुर, गिरिजा मेमोरियल राइस मिल नोना एवं सूरजपुर पैक्स गोदाम का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में उन्होंने राइस मिलों में चावल की गुणवत्ता के साथ साथ बोरे का वजन करा कर भी देखा। सभी राइस मिलों से चावल का सैंपल भी लिया गया। उन्होंने सभी जगह संधारित पंजी का भी अवलोकन किया तथा अद्यतन संधारण सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। गिरिजा मेमोरियल राइस मिल नोना में चावल के स्टॉक का सत्यापन कराने का निर्देश दिया गया। पैक्स गोदाम निरीक्षण के क्रम में उन्होंने स्थानीय किसानों से बातचीत कर धान अधिप्राप्ति के बारे में फीडबैक लिया। उन्होंने सभी किसानों को 21 फरवरी तक निर्धारित अंतिम तिथि से पूर्व संबंधित पैक्स को धान की बिक्री सुनिश्चित करने का अनुरोध किया। इस संबंध में पैक्स अध्यक्ष को भी गांव में व्यापक प्रचार प्रसार सुनिश्चित करने को कहा। जिला आपूर्ति पदाधिकारी को भी सभी पंचायतों में माइकिग/ डुगडुगी बजाकर धान अधिप्राप्ति की निर्धारित अंतिम तिथि 21 फरवरी की जानकारी देते हुए इससे पहले धान की बिक्री संबंधित पैक्स के माध्यम से करने के लिए किसानों को अवगत कराने का निर्देश दिया गया। इस अवसर पर जिला आपूर्ति पदाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी राजगीर आदि उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.