Muzaffarpur : जहरीली शराब पीने से एक और युवक की मौत, दो की हालत गंभीर, छापेमारी में मारी मात्रा में शराब जब्त

शराब पीने की जताई जा रही आशंका। प्रतीकात्मक तस्वीर

Muzaffarpur News स्वजनों का कहना है कि शराब पीकर आए थे। उसी रात उनकी तबीयत खराब हो गई। चोरी-छुपे स्थानीय अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। शुक्रवार की देर रात गुड्डू ने दम तोड़ दिया। स्वजन ने शनिवार की सुबह दाह संस्कार कर दिया।

Dharmendra Kumar SinghSat, 27 Feb 2021 11:19 AM (IST)

 मुजफ्फरपुर, जासं।  मुजफ्फरपुर में जहरीली शराब पीने से एक और युवक की मौत हो गई है। जबकि दो की हालत बेहत नाजुक बनी हुई है। एएसपी पश्चिमी की अगुवाई में चल रही छापेमारी में मारी मात्रा में शराब जब्त हुई है। बताते चलें कि मुजफ्फरपुर के कुढ़नी प्रखंड के विशनपुर गिद्धा में युवक गुड्डू साह की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। वहीं, दो की हालत गंभीर है। इनमें एक की आंख की रोशनी खत्म होने की भी बात बताई जा रही है। स्वजनों का कहना है कि गुरुवार की शाम सभी शराब पीकर आए थे। उसी रात उनकी तबीयत खराब हो गई। चोरी-छुपे स्थानीय अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। शुक्रवार की देर रात गुड्डू ने दम तोड़ दिया। स्वजन ने शनिवार की सुबह दाह संस्कार कर दिया। इसके बाद मामला सामने आया है। एक सप्ताह पहले ही कटरा प्रखंड में भी जहरीली शराब पीने से पांच लोगों की मौत हो गई थी। 

जहरीली शराब से पांच की मौत के बाद मुख्य धंधेबाजों की गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी

कटरा थाना क्षेत्र के दरगाह टोले में जहरीली शराब से पांच की मौत के बाद मुख्य धंधेबाजों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। सीतामढ़ी के पुपरी क्षेत्र से प्रमोद दास की गिरफ्तारी के बाद दूसरे आरोपित मुकेश सिंह के संदिग्ध ठिकानों पर पुलिस दबिश बढ़ा दी है। इधर, दरगाह स्थित प्रमोद दास के घर पर सन्नाटा पसरा रहा। उसकी पत्नी और भाई को पहले ही जेल भेजा जा चुका है। वहीं पीडि़त परिवारों में भय और दहशत व्याप्त रहा। 

 प्रमोद व मुकेश मास्टर माइंड       

इस जहरीली शराब कांड का मास्टर माइंड प्रमोद और मुकेश को ही माना जा रहा है। इस कारण लोग दोनों की गिरफ्तारी आवश्यक मानते हैं। प्रमोद की गिरफ्तारी के बाद मुकेश के बारे में सुराग पाना आसान माना जा रहा है। वहीं, कटरा पुलिस शुक्रवार को सोनपुर, गंगेया, बडाडीह, धनौर आदि गांवों में तलाश में जुटी रही। लेकिन, अबतक सुराग नहीं मिला। मुकेश के घर में ताला लटक रहा है। पूरा परिवार घर छोड़कर फरार है। थानाध्यक्ष ललित कुमार ने बताया कि गिरफ्तारी के बाद प्रमोद को एसएसपी जयंत कांत के समक्ष पेश किया गया जहां कड़ी पूछताछ के बाद जेल भेज दिया गया। इधर, एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत से राम खेलावन मांझी के परिवार में मातमी सन्नाटा रहा। इस घटना में खेलावन के पुत्र अजय मांझी, भतीजा रामचंद्र मांझी तथा बहु मंजू देवी की मौत हो चुकी है। वहीं मृतक विनोद मांझी की विधवा के कंधे पर नौ बच्चों का बोझ है। लोगों का मानना है कि मुकेश की गिरफ्तारी के बाद इस इस जघन्य कांड से पर्दा उठ जाएगा।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.