West champaran: लापरवाही की हद पार कर रहे लोग, कोरोना का खतरा अभी टला नहीं

West champaran कोरोना संक्रमण से बचाव के ल‍िए गाइडलाइन का पालन जरूरी है।चिकित्सकों के अपील के बावजूद बरत रहे लापरवाही बाजार में उमड़ रही है भीड़ मास्क व शारीरिक दूरी के नियमों का नहीं हो रहा पालन।

Dharmendra Kumar SinghSat, 27 Nov 2021 03:23 PM (IST)
पश्‍चि‍म चंपारण में बाजार समिति परिसर के बाहर लोगों की भीड़। जागरण

पश्‍च‍िम चंपारण (बेतिया), जासं। कोरोना की दूसरी लहर को हर किसी ने बहुत करीब से देखा और महसूस किया। जब अस्पतालों के बाहर लाइन लग रही थी। लोग ऑक्सीजन के लिए भटक रहे थे। दवा के लिए तड़प रहे थे। ऐसा मंजर ज‍िंदगी में पहली बार लोगों को देखने को मिली थी। इसके बावजूद लोग वो सबकुछ भूल कर लापरवाही की हद पार कर रहे हैं। बाजार में भीड़ उमड़ रही है। शारीरिक दूरी की अनदेखी की जा रही है। लोग मास्क लगाना मुनासिब नहीं समझ रहे हैं। हालांकि चिकित्सक तीसरी लहर को लेकर बार-बार लोगों से सावधान रहने की अपील कर रहे हैं। बावजूद लोग लापरवाही की हद पार कर रहे हैं।

धीमी पड़ी कोरोना की जांच

पर्व, त्यौहार को लेकर पिछले माह विभाग अलर्ट मोड में काम कर रहा था। दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों के सैंपल की जांच के लिए कई टीमें लगाई गई थी। लेकिन अब यह रफ्तार कम हो गई है। विभागीय जानकारों के अनुसार पिछले माह की अपेक्षा इस माह करीब एक हजार सैंपल कम लिए गए। गुरुवार को जिले में करीब 4251 सैंपल की जांच की गई। आरटीपीसीआर से 1326 जबकि एंटीजेंट कीट से 2925 सैंपल की जांच की गई। हालांकि पिछले माह एक दिन में करीब 5000 सैंपल की जांच संभव हो पा रही थी। फिलहाल विभाग का पूरा फोकस अधिक से अधिक लोगों के टीकाकरण पर है। ऐसा नहीं कि सैंपल नहीं लिए जा रहे हैं, बल्कि सैंपल लिए जा रहे हैं, जांच भी हो रही है लेकिन इसकी गति कम है। हालांकि जिले में अगस्त के बाद से अब एक भी पॉजिटिव की पहचान नहीं हो सकी है

टीका की दूसरी डोज के लिए कर रहे प्रोत्साहित

कोरोना की दूसरी डोज लेने के लिए कम ही आगे आ रहे हैं। इसे बढ़ावा देने के लिए जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग लगातार काम कर रहा है। दूसरी डोज लगवाने वालों को लकी ड्रा के जरिए पुरस्कार देने की घोषणा की गई है। डीपीएम सलीम जावेद ने बताया कि 27 नवंबर से 31 दिसंबर तक दूसरा डोज लेने वाले हर एक लोग लकी ड्रॉ का हिस्सा बनेंगे। उन्हें कूपन दी जाएगी और उसका ड्रॉ हर सप्ताह किया जाएगा। 5 सप्ताह में करीब 5 बार ड्रॉ होगा। विजेताओं को टीवी, फ्रिज सहित अन्य वस्तुएं जीतने का अवसर मिलेगा। उन्होंने अधिक से अधिक लोगों को इस अभियान का हिस्सा बनने की अपील की।

-- कोरोना से पूर्ण सुरक्षा के लिए दूसरा डोज जरूरी है। एक डोज लेने के बाद पूर्ण सुरक्षा की बात करना बेईमानी होगी। हालांकि शारीरिक दूरी और मास्क लगाना जरूरी है। अभी तक जिले में करीब साढ़े छह लाख से अधिक लोगों ने दूसरा डोज दी गई है। शेष लोगों को दूसरा डोज लगाने के लिए कई स्तर पर पहल की जा रही है।

-डॉ अवधेश कुमार स‍िंह, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, पश्चिम चंपारण

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.