पश्चिम चंपारण पंचायत, मुखिया चुनाव 2021: युवक युवतियो में दिखा गजब का उत्साह, सुरक्षा व्‍यवस्‍था रही चौकस

पश्चिम चंपारण पंचायत मुखिया चुनाव 2021नौतन व बैरिया के दियारे में बूथों पर अधिक चौकसी बैरिया के दो और नौतन तीन बूथों पर ईवीएम में खराबी के कारण विलंब से शुरू हुआ था मतदान सुबह से वोटरों की लगी रही लाइन।

Dharmendra Kumar SinghMon, 29 Nov 2021 09:57 AM (IST)
बैरिया प्रखंड अंतर्गत बूथ संख्या 11पर मतदान को जाती दिव्यांग सीता देवी व बूथ संख्या 56 पर पहुंची वृद्ध मतदाता

पश्चिम चंपारण, जासं। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के नौंवे चरण के महापर्व में युवा मतदाता उत्साह व जोश से लबरेज दिखे। जोश क्या होता है, यह सोमवार को लोकतंत्र के महापर्व में खुलकर देखने को मिला। वोट डालने वालों युवक युवतियो ने उत्साह से अपनी भागीदारी का एहसास कराया। उनकी जज्बा देखने लायक थी। कतार में खड़े,सेल्फी लेते और चेहरे पर मुस्कुराहट लोकतंत्र की कामयाबी को दर्शा रहे थे। लग रहा था कि वे पंचायत को एक नई दिशा देने जा रहे हैं।नौतन प्रखंड क्षेत्र के सभी मतदान केंद्रों को पर नवयुवकों की भारी भीड़ कतार में खड़ी दिखी। फस्र्ट टाइम वोट का प्रयोग करने वाले युवतियों में मतदान को लेकर खासा उत्साह था। मतदान करने आए युवक युवतियों में पल्लवी राज, प्रियंका, अर्चना, मधुबाला, आयुष, बबलू, नन्हे आदि ने कहा कि हम लोग मतदान करने के लिए कई दिनों से इंतजार कर रहे थे। लोकतंत्र में वोट का बहुत महत्व है। पांच साल के बाद यह मौका आता है।वोट से ही पंचायत की विकास में उन सबकी भागीदारी सुनिश्चित होती है। युवाओं में गजब का उमंग देखने को मिल रहा था।

बिना जलपान किए वोटरों ने किया मतदान

जगदीशपुर संवाद सूत्र लोकतंत्र का उत्साह सोमवार को नौतन प्रखंड के जगदीशपुर, झखरा, पकडिय़ा, बैकुंठवा जमुनिया आदि पंचायत के विभिन्न बूथों पर चरम पर नजर आया। मतदान के जोश में किसी को नाश्ता या जलपान की फिक्र नहीं रही। इस यज्ञ में सभी अपनी आहुति दे रहे थे। मतदाताओ को ना तो भूख की ङ्क्षचता रही और ना ही धूप की। न देर से कतार में खड़े होने की। महिलाओं में उत्साह कुछ खास नजर आए। महिलाएं अपने छोटे बच्चों को गोद में लिए मतदान करने को कतार में खड़ी दिखी। महिला व पुरुष सुबह से ही घरों का कामकाज छोड़कर वोट देने मतदान केंद्र पर पहुंचने लगे थे। लंबी कतारों में मतदान शुरू होने का इंतजार करते देखे गए। इतना ही नहीं महिलाओं व नई दुल्हनों को भी बच्चों के साथ कतारों में इंतजार करते देखा गया। जगदीशपुर की अनिता देवी और कामिनी ने कहा कि लोकतंत्र का पर्व पांच साल के बाद आता है, इसलिए इसको भूलना नहीं चाहते है औऱ मतदान करने को उत्सुक है। वयोवृद्ध सुरेश प्रसाद ने पुलिस जवानों के प्रति आदर भाव प्रकट करते हुए कहा कि जवानों ने उसे सहारा देकर मतदान कराएं। बुजुर्ग रामचंद्र प्रसाद अपने साथी नजीबुल्लाह अंसारी के साथ मतदान देकर वापस होते काफी प्रसन्न नजर आ रहे थे । सुबह से शाम तक माहौल खुशनुमा नजर आया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.