Festive season : त्योहार में शामिल होने परदेस से आने लगे यात्री, जानिए परिवहन व्यवस्था की स्थिति Muzaffarpur News

मुजफ्फरपुर, जेएनएन। पर्व में परदेस से लोगों का आना शुरू हो गया। दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, हावड़ा, अमृतसर व अन्य जगहों से आने वाली ट्रेनों में यात्रियों की काफी भीड़ है। स्लीपर व जनरल में यात्रियों को जगह नहीं मिलने पर शौचालय में कब्जा कर सफर करने को विवश हैं। सप्तक्रांति एक्सप्रेस, वैशाली, आम्रपाली व गोंदिया एक्सप्रेस समेत अन्य ट्रेनों से जंक्शन पर यात्रियों की भीड़ उतरी।

यात्रियों का कहना था कि जनरल बोगी में पायदान पर भी जगह नहीं मिली। स्लीपर में जनरल टिकट को तब्दील कराकर सफर किया। उसमें भी फर्श पर तक जगह नहीं मिली। शौचालय में भी पहले से लोगों ने कब्जा कर लिया था। भीड़ में किसी तरह खड़े होकर सफर करना पड़ा। स्पेशल ट्रेन का कोई निर्धारित समय नहीं है। लचर व्यवस्था से यात्री परेशान हैं।  

इंटरनेट पर ट्रेनों की मिल रही गलत सूचना

इन दिनों इंटरनेट पर ट्रेनों की गलत सूचना देने से यात्री बेचैन हो रहे हैं। इससे यात्रियों को नेट पर ट्रेनों की सूचना से विश्वास उठ रहा है। जंक्शन पर डाउन बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस आकर रुकी। निर्धारित पांच मिनट रुकी। जंक्शन से ट्रेन रुकी रहीं। लेकिन नेट पर ट्रेन सिहो स्टेशन पार करने का सूचना दी। गलत सूचना देने को लेकर कई यात्रियों ने स्टेशन मास्टरों से शिकायत की।

 यात्रियों ने कहा कि जंक्शन पर ट्रेन आकर रुकी रहती है। नेट पर मुजफ्फरपुर से खुलकर दूसरे स्टेशन पर पहुंचने की सूचना देता है। नेट पर गलत सूचना देने से यात्रियों को विश्वास उठ रहा है। इससे यात्री पूछताछ काउंटर व स्टेशन मास्टर कार्यालय में पहुंचकर सूचना लेने को विवश हैं। सीनियर डीसीएम ने कहा कि जिस स्टेशन से ट्रेन खुल रही है वहां के स्टेशन मास्टर कंट्रोल को सूचना देते हैं। कंट्रोल के माध्यम से नेट पर अपडेट किया जाता है। इससे नेट पर गलत सूचना नहीं दे सकते हैं। 

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.