तैराकी को बढ़ावा देने के लिए विवि में बन रहा स्वीमिंग पुल, मुजफ्फरपुर में खिलाडिय़ों को प्रशिक्षण में सुविधा

मुजफ्फरपुर में एक हजार क्षमता वाला मल्टी परपज हाल भी हो रहा तैयार स्वीमिंग पुल खेलो इंडिया योजना के तहत केंद्रीय खेल मंत्रालय ने दी है मंजूरी इसके तैयार होने के बाद ज‍िले से भी तैराकी ख‍िलाड़ी ह‍िस्‍सा ले सकेंगे। अभ्‍यास करने का बेहतर मौका म‍िलेगा।

Dharmendra Kumar SinghTue, 21 Sep 2021 12:32 PM (IST)
केंद्रीय खेल मंत्रालय की ओर से स्वीकृति के बाद मुजफ्फरपुर में बन रहा स्वीमिंग पुल। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

मुजफ्फरपुर, जासं। तैराकी को बढ़ावा देने के उद्देश्य से विवि में बड़े स्तर पर स्वीमिंग पुल का निर्माण कार्य शुरू हो गया है। विवि के पीजी बाटनी विभाग के पीछे खाली पड़ी जमीन पर स्वीमिंग पुल और उसके बगल में 1000 क्षमता वाला मल्टी परपज हाल का निर्माण कराने को लेकर खेलो इंडिया के तहत केंद्रीय खेल मंत्रालय की ओर से स्वीकृति मिली है। कुल सात करोड़ की लागत से स्वीमिंग पुल और मल्टी परपज हाल का निर्माण कराया जाएगा। विवि की ओर से बताया गया कि केंद्रीय युवा कार्यक्रम व खेल मंत्रालय ने 18 दिसंबर 2020 को दोनों प्रोजेक्ट को स्वीकृति दी थी। इस पर बिहार सरकार ने जनवरी में प्रक्रिया शुरू कर दी। सरकार के अपर सचिव ने 24 फरवरी को कुलसचिव को पत्र भेजकर इसके निर्माण के लिए भूमि उपलब्ध कराने का निर्देश दिया था। हालांकि कोरोना काल में कार्य शुरू नहीं हो सका। कुलपति ने बताया कि बिहार राज्य शैक्षणिक आधारभूत संरचना विकास निगम लिमिटेड, पटना को निर्माण कार्य कराने की जिम्मेदारी दी गई है। इसके निर्माण से खिलाडिय़ों को प्रशिक्षण में सुविधा मिलेगी।

नेशनल लीडरशिप अवार्ड से नवाजे गए डा.मनेंद्र

मुजफ्फरपुर। फ्रेंडशिप फोरम नई दिल्ली की ओर से बीआरए बिहार विश्वविद्यालय के साइंस के डीन सह जूलाजी विभागाध्यक्ष डा.मनेंद्र कुमार को नेशनल लीडरशिप अवार्ड इन एजुकेशन से नवाजा गया है। संस्थान की ओर से डा.मनेंद्र को सम्मान पत्र, गोल्ड मेडल व मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया है। बता दें कि डा.मनेंद्र की लगभग 90 शोध पत्र और 10 पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं। सम्मान मिलने पर विभाग के शिक्षकों और विवि के पदाधिकारियों ने उन्हें शुभकामनाएं दी हैं।

फुटबॉल प्रत‍ियोग‍िता में वार्ड 27 की टीम व‍िजयी

मुजफ्फरपुर । मुजफ्फरपुर स्पोर्टिंग क्लब के तत्वावधान में चल चल रही प्रथम खुदीराम बोस अंतर वार्ड फुटबाल प्रतियोगिता के दूसरे सेमीफाइनल में वार्ड 27 की टीम ने वार्ड 12 की टीम को कड़े मुकाबले के बाद 2-0 से पराजित किया। प्रथम हाफ के खेल में दोनों टीम ने कड़ा संघर्ष किया लेकिन एक भी गोल किसी टीम द्वारा नहीं किया गया। दूसरे हाफ में भी दोनों टीमों के बीच कांटे का मुकाबला हुआ लेकिन खेल के अंतिम दस मिनट पर वार्ड 27 के खिलाडिय़ों ने लगातार दो गोल कर टीम को फाइनल तक पहुंचाया। वार्ड 27 की तरफ से शाहिल ने खेल के 60 वें एवं अरवील ने खेल के 63 वें मिनट पर गोल किया। वार्ड 12 के खिलाडिय़ों को गोल करने का मौका तो मिला लेकिन उसे वह गोल में नहीं बदल सके। इससे पूर्व वार्ड 27 के पार्षद अजय ओझा, आयोजन अध्यक्ष अनिल कुमार सिन्हा, अखिलेश कुमार मनी, जिला फुटबाल संघ के कार्यकारी सचिव सुनिल कुमार सिंह एवं आयोजन सचिव चंद्रशेखर कुमार ने खिलाडिय़ों से परिचय प्राप्त किया। रेफरी के रूप में मो. करार एवं अजित कुमार ने योगदान दिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.