top menutop menutop menu

मुजफ्फरपुर में डूबने से चार सगी बहनें समेत छह की मौत, ऐसे हुई घटना Muzaffarpur News

मुजफ्फरपुर, जेएनएन।  जिले के बंदरा, अहियापुर व मड़वन क्षेत्र में डूबने से चार सगी बहनें समेत छह लोगों की मौत हो गई। बंदरा में पोस्टमार्टम कराने व मुआवजा राशि लेने से स्वजनों ने किया इंकार। 

बंदरा : पीयर थाना क्षेत्र के बंदरा में लीची गाछी के नजदीक सड़क किनारे पानी भरे गडढे में डूबने से स्व. रामरेखा राय के 36 वर्षीय पुत्र राजीव कुमार की मौत हो गई। वह मध्य विद्यालय बंदरा के शिक्षक नवीन कुमार राय का भतीजा बताया गया है। मुखिया पति अनिल कुमार ने बताया कि वह दो महीने से अपनी मां नीलू देवी के साथ एक रिश्तेदार के यहां रहता था। सूचना पर  सीओ रमेश कुमार एवं पीयर थाने की पुलिस पहुंची। परिजनों ने शव का पोस्टमार्टम कराने एवं मुआवजा राशि लेने से इंकार कर दिया जिसके बाद अधिकारी लौट गए। मुखिया गीता गुप्ता ने कबीर अंत्येष्टि मद से तीन हजार रुपये स्वजनों को दिए।

वहीं, हत्था ओपी के मुन्नी गांव निवासी वीरेंद्र कुमार यादव की दो बेटियों 12 वर्षीय पूजा कुमारी और 8 वर्षीय रंजना कुमारी की मौत पोखर में डूबने से हो गई। दोनों बहनें पोखर में स्नान करने गई थी। सूचना पर पहुंचे हत्था ओपी प्रभारी मो. शमीम अख्तर ने बताया कि शव को मछुआरों की मदद से पोखर से निकालकर पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेजा जा रहा है। 

बैरिया : अहियापुर थाना के झपहां नवरी गांव में पानी भरे गड्ढे में दो बहनें डूब गर्इं। दोनों घास काटने गर्इं थीं। घास काटने के क्रम में एक गड्ढे में लुढ़क गई। दूसरी उसे बचाने गई। दोनों की पहचान  सबीर अंसारी की पुत्री रुबीना खातून 12  और रुखसाना खातून 14 के रूप में हुई है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने लोगों के सहयोग से शव को पानी से बाहर निकाल पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेजा। 

मड़वन  : करजा थाना क्षेत्र के चैनपुर पडरी में नून नदी में डूबने से एक किसान की मौत हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेज दिया। घटना के संबंध में स्थानीय मुखिया तारकेश्वर गिरि ने बताया कि चैनपुर निवासी 58 वर्षीय भिखर पासवान बुधवार की शाम चारा काटने नदी किनारे गया था। इसी दौरान उसका पैर फिसल गया और गहरे पानी में डूब गया। घर नहीं लौटने पर स्वजनों ने खोजबीन की, मगर रात में उसका कोई पता न चला।

 गुरुवार की अलसुबह शौच को गए लोगों ने पानी में शव को उपलाते देखा। सूचना मिलने पर पहुंचे स्वजनों ने शव की पहचान करते हुए पुलिस को सूचना दी। मामले को लेकर थाने में यूडी केस दर्ज किया गया है। इधर, सीओ मृत्युंजय कुमार ने आपदा राहत योजना से मृतक के स्वजनों को चार लाख का चेक सौंपा। इधर, राजद नेता इसराइल मंसूरी ने पीडि़त परिवार को सांत्वना व आर्थिक मदद दी। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.