Muzaffarpur Flood News : बागमती, बूढ़ी गंडक और लखनदेई का जलस्तर लाल निशान के पार

Muzaffarpur Flood News : बागमती, बूढ़ी गंडक और लखनदेई का जलस्तर लाल निशान के पार

Muzaffarpur Flood News बूढ़ी गंडक के जलस्तर आया खतरे के निशान से महज 4 सेमी ऊपर- बागमती और लखनदेई का जलस्तर खतरे के निशान के पार।

Publish Date:Tue, 11 Aug 2020 10:24 PM (IST) Author: Ajit Kumar

मुजफ्फरपुर, जेएनएन। Muzaffarpur Flood News : जिले में मंगलवार को तमाम नदियों के जलस्तर में गिरावट आई है। बावजूद बागमती, बूढ़ी गंडक और लखनदेई लाल निशान के ऊपर बह रही है। सिकंदरपुर में बूढ़ी गंडक के जलस्तर में लगातार जारी कमी से प्रशासन ने राहत की सांस ली है। वहीं शहर पर छाया बाढ़ का संकट कुछ हदतक टल गया है। हालांकि, मुरौल के दलौल घाट में बूढ़ी गंडक अब भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। इस कारण सकरा व मुरौल समेत आसपास के इलाकों में बाढ़ से स्थिति गंभीर बनी हुई है।

बागमती के जलस्तर में मामूली गिरावट

उधर, पिछले 24 घंटे में बूढ़ी गंडक नदी के जलस्तर में 0.24 सेमी और 13 दिनों में 1.34 मीटर की गिरावट हुई है। मंगलवार को सिकंदरपुर में बूढ़ी गंडक नदी का जलस्तर खतरे के निशान 52.53 मीटर से महज 0.4 सेमी उपर 52.57 मीटर दर्ज किया गया। मुरौल के दलौल घाट में बूढ़ी गंडक खतरे के निशान 48.25 मीटर से 1.75 मीटर उपर बह रही है। यहां का जलस्तर 50.00 मीटर दर्ज किया गया है। कटौझा में बागमती के जलस्तर में 40 सेमी की गिरावट आई है। यह अब भी खतरे के निशान से 1.07 सेमी ऊपर बह रही है। यहां जलस्तर 54.80 मीटर दर्ज किया गया है। बेनीबाद में बागमती के जलस्तर में 0.3 सेमी की मामूली गिरावट आई है। यह खतरे के निशान 48.68 मीटर से 0.81 सेमी ऊपर बह रही है। यहां का जलस्तर 49.49 मीटर दर्ज किया गया। रेवाघाट में गंडक नदी के जलस्तर 0.9 सेमी की गिरावट के साथ 53.67 मीटर व अहिरवलिया में खतरे के निशान 59.62 से 1.68 मीटर नीचे 57.94 मीटर दर्ज किया गया। कुढऩी के शाहपुर मरीचा में नून नदी खतरे के निशान 50.25 मीटर से 1.23 मीटर नीचे बह रही है। यहां 0.5 सेमी की गिरावट के साथ जलस्तर 48.65 मीटर दर्ज किया गया है। गायघाट के बोराबारी में लखनदेई नदी का जलस्तर खतरे के निशान 42.00 मीटर से 1.19 मीटर ऊपर बह रही है। यहां का जलस्तर 43.19 मीटर दर्ज किया गया है।  

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.