बिहार के दरभंगा में पकड़ा गया नटवरलाल, सबके सामने शौचालय से हो गया गायब, जानिए क्या है माजरा

दरभंगा में भाई के बदले परीक्षा देने पहुंचा नटवरलाल जांच के दौरान फर्जी पाया गया अब कार्रवाई की बात चल ही रही थी तब तक सबको चकमा देकर शौचालय से फरार हो गया पुलिस अब इस घटना क्रम में प्राथमिकी दर्ज कर जांच पड़ताल कर रही है।

Dharmendra Kumar SinghSun, 01 Aug 2021 02:14 PM (IST)
दरभंंगा में शौचालय से फरार हुआ फर्जी परीक्षार्थी। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

दरभंगा, जासं। बिहार के नटवरलाल के बारे में आप लोगों ने तो सुना ही होगा। कुछ उसी अंदाज में भाई के बदले परीक्षा देने आया युवक पकड़ा गया। लेकिन इतने लोगों के बीच कैसे चकमा देकर निकल गया सब हैरान हैं। सब अलग-अलग तरीके से आंकलन कर रहे हैं। लहेरियासराय थानाक्षेत्र के खाजासराय मोहल्ला स्थित आइओएन डिजिटल जोन में परीक्षा देने आए एक परीक्षार्थी जांच में फर्जी पाया गया। जिसे पर्यवेक्षक सुधीर कुमार साहू ने दबोच लिया। हालांकि, वह संस्थान प्रबंधन को चकमा देकर शौचालय से फरार हो गया। मामले को लेकर पर्यवेक्षक ने थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। इसमें फर्जी परीक्षार्थी सहित जिसके बदले में वह परीक्षा देने आया था उप पर कार्रवाई करने की बात कही है। आरआरबी, एनटीपीजी की ओर से आयोजित परीक्षा दौरान परीक्षार्थियों की जांच की गई। इसमें एक परीक्षार्थी पर शक हुआ। जांच में फर्जी पाते ही उससे पूछताछ की गई। इसमें पकड़े गए व मधुबनी जिले के जयनगर थानाक्षेत्र के हरपट्टी निवासी महेश यादव ने बताया कि वह अपने भाई श्रीनाथ यादव को सरकारी नौकरी दिलाने के लिए उसके के बदले में परीक्षा देने आया था। परीक्षा समाप्ति के बाद आरोपित को पुलिस के हवाले किया जाए सोचकर उसे परिसर के अंदर बैठाया गया। लेकिन, कुछ ही देर में वह सभी को चकमा देकर शौचालय से फरार हो गया। इस मामले को पर्यवेक्षक ने गंभीरता से लिया और थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। इसमें फर्जी परीक्षार्थी महेश यादव और उसके भाई श्रीनाथ यादव पर कार्रवाई की बात कही है।

साधु के वेष में ठग गिरोह ने महिला से लाखों के जेवरात उड़ाए

घनश्यामपुर थानाक्षेत्र में साधु के वेष में ठग गिरोह सक्रिय हो गया है। शनिवार को गौड़ाबौराम प्रखंड के आसी गांव में ठग गिरोह के सदस्यों ने एक महिला को अपने झांसे में लेकर लाखों के जेवरात लेकर फरार हो गए। इस सिलसिले में संतोष साह की पत्नी रूपा देवी ने घनश्यामपुर थाने में आवेदन दिया है। महिला ने पुलिस को बताया कि एक बाइक पर तीन सवार साधु के वेश में पहुंचे थे। इसमे दो लोगों ने मेरे दरवाजे पर बैठकर देवर संदीप साह को अपने बातों में उलझाकर रखा। एक साधु मेरे घर आंगन में आया और बोला कि तुम्हारे घर में देवी प्रकोप हो गया है। अपना चमत्कार बताते हुए जमीन से आग निकालने की बात बताई । मुझे विश्वास में लेकर घर के सभी जेवरात को शुद्धीकरण करने की बात बताई।और घर में रखे 40 ग्राम सोना एवं 250 ग्राम चांदी को जल फूल चावल से सिद्धिकर्ण कर इसी दौरान उन्होंने एक लोटा में जल भरकर गांव के बाहर पोखर में फेंक आने को कहा। जब जल पोखर में फेंक कर घर लौटी तबतक सभी लोग जेवरात लेकर फरार हो गए। घनश्यामपुर थानाध्यक्ष आशुतोष कुमार झा ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.