Bihar Assembly Election 2020: न्यूनतम मतदान वाले 322 केंद्रों पर कारणों का पता लगाने को पहुंची टीम

स्वीप की ओर से मतदाता जागरूकता अभियान के तहत चुनाव पाठशाला
Publish Date:Thu, 24 Sep 2020 07:44 PM (IST) Author: Murari Kumar

मुजफ्फरपुर, जेएनएन। विगत लोकसभा चुनाव में विधानसभावार न्यूनतम मतदान वाले 322 मतदान केंद्रों पर गुरुवार को जिला निर्वाचन पदाधिकारी के निर्देश पर प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों द्वार कारणों का पता लगाने को बैठक की गई। स्वीप कार्यक्रम के तहत इसका आयोजन किया गया। सभी मतदान केंद्रों पर अधिकारियों द्वारा संबंधित बीएलओ, स्थानीय जनप्रतिनिधियों, चुनाव पाठशाला के सदस्यों तथा स्थानीय व्यक्तियों के साथ बैठक में विगत चुनाव में कम फीसद वोटिंग के कारणों की जानकारी हासिल की गई। साथ ही इस चुनाव में मतदान का फीसद अधिक हो इसको लेकर आमंत्रित अतिथियों से सुझाव भी प्राप्त किए गए।

 बैठक के दौरान लोकसभा चुनाव 2019 के अवसर पर मतदान केंद्रवार महिला निर्वाचकों, युवा मतदाताओं, दिव्यांग वोटर्स, 80 साल से ऊपर के मतदाताओं की अद्यतन स्थिति की जानकारी भी ली गई। इधर, जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी ने सभी निर्वाची पदाधिकारियों, सहायक निर्वाची पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि वे अपने स्तर से मतदान का फीसद बढ़ाने के मद्देनजर आवश्यक करवाई करें। विशेषकर जेंडर गैप को कम करना, दिव्यांग वोटर्स की मतदान में सौ फीसदी सहभागिता सुनिश्चित करना आदि को लेकर निर्देश दिया गया है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.