समस्तीपुर के पटोरी में स्थापित हुआ नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी का अध्ययन केंद्र

Samastipur News एएनडी कालेज में समारोहपूर्वक हुआ शुभारंभ छात्रों का ख्याल रखते हुए विश्वविद्यालय की ओर से अध्ययन सामग्री तैयार किया गया है । अधिक से अधिक सुविधा उपलब्ध करना के लिए छात्रों को दिया गया आश्वासन ।

Dharmendra Kumar SinghSun, 19 Sep 2021 02:21 PM (IST)
एएनडी कॉलेज में नालंदा खुला विश्वविद्यालय के अध्ययन केंद्र के उद्घाटन में मौजूद अतिथि। जागरण

समस्तीपुर, जासं। शाहपुर पटोरी स्थित एएनडी कॉलेज में नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी का अध्ययन केंद्र स्थापित किया गया। प्राचार्य डॉ. जयशंकर प्रसाद की उपस्थिति में इसका शुभारंभ किया गया। नालंदा खुला विश्वविद्यालय के द्वारा गठित निरीक्षण दल के सदस्यों के द्वारा महाविद्यालय के निरीक्षणपोरांत इस अध्ययन केंद्र को मान्यता दी। निरीक्षण दल के सदस्य डॉ. अमरेश रंजन एवं डॉ. अफताब अहमद ने महाविद्यालय परिसर में स्थापित आचार्य नरेंद्र देव एवं स्व. बद्री नारायण महतो की स्थापित प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इस अवसर पर निरीक्षण दल के सदस्यों के द्वारा महाविद्यालय में उपलब्ध विभिन्न संसाधनों का भी निरीक्षण किया गया।

मौके पर नालंदा खुला विश्वविद्यालय के द्वारा संचालित होने वाले विभिन्न पाठ्यक्रमों पर विस्तार से प्रकाश डाला गया। डॉ. अमरेश रंजन ने कहा कि छात्रों का ख्याल रखते हुए विश्वविद्यालय द्वारा अध्ययन सामग्री तैयार किया गया है। आश्वासन दिया गया कि छात्रों को अधिक से अधिक सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी। नालंदा खुला विश्वविद्यालय का अध्ययन केंद्र स्थापित हो जाने की सूचना से स्थानीय लोगों में हर्ष एवं उत्साह का माहौल बन गया। मौके पर प्रो. गंगेश कुमार, डॉ. गौतम कुमार, प्रधान सहायक वीरेंद्र कुमार यादव आदि मौजूद थे। अन्य उपस्थित लोगों के द्वारा महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ जयशंकर प्रसाद के प्रति इस उपलब्धि हेतु आभार व्यक्त किया गया। इस अवसर पर महाविद्यालय के प्रोफेसर गंगेश कुमार, डॉ. गौतम कुमार, प्रधान सहायक वीरेंद्र कुमार यादव, हरि सिंह, बसंत कुमार सिंह, अमरेश कुमार, रूपेश कुमार, संजय कुमार सिंह, राजकुमार शर्मा, दिलीप कुमार सिंह, सनोज राउत समेत कई गणमान्य आदि उपस्थित थे।

आरएनएआर कॉलेज से जल निकासी को एसडीओ को सौंपा ज्ञापन

आरएनएआर कॉलेज परिसर से जल निकासी को लेकर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रतिनिधिमंडल ने अनुमंडल पदाधिकारी और नगर आयुक्त से मिलकर ज्ञापन सौंपा। नेतृत्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अनुपम झा ने किया। बताया कि महाविद्यालय परिसर में जल जमाव के कारण विगत कई महीनों से नियमित कक्षा का संचालन नहीं हो पा रहा है। वहीं नामांकन एवं अन्य कार्यों के लिए आने वाले छात्रों को घुटने भर पानी से होकर आना पड़ता है। जो छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है तथा किसी भी अप्रिय घटना को आमंत्रण देना है। यदि जल निकासी का कोई समुचित प्रबंध नहीं होता है तो विद्यार्थी परिषद उग्र आंदोलन को बाध्य होगी। मौके पर दिनेश कुमार, कुंदन यादव आदि उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.