विवि में कर्मी की बर्बरता, छात्र के सिर को दीवार से टकराया

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग में मंगलवार को कर्मचारी का बर्बर चेहरा सामने आया।

JagranWed, 22 Sep 2021 01:38 AM (IST)
विवि में कर्मी की बर्बरता, छात्र के सिर को दीवार से टकराया

मुजफ्फरपुर : बीआरए बिहार विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग में मंगलवार को कर्मचारी का बर्बर चेहरा सामने आया। छात्र रविशंकर पासवान के सिर को कर्मचारी ने दीवार से टकरा दिया। इस क्रम में छात्र बुरी तरह घायल हो गया। वह जब बाहर निकलने लगा तो प्राथमिकी दर्ज कराने की बात सुन कर्मचारी ने जान से मारने की धमकी दी। उसे सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। छात्र के बयान पर विवि थाने में कर्मचारी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। जानकारी के अनुसार, सीतामढ़ी के बाजपट्टी का रविशंकर पासवान अपनी बहन रेखा कुमारी के स्नातक पार्ट टू के लंबित परिणाम में सुधार के लिए विवि पहुंचा था। उसके साथ सीतामढ़ी के ही दीप रोशन भी थे। दोनों 10 बजे परीक्षा विभाग पहुंचे तो वहां पार्ट टू के कक्ष में ताला बंद था। बताया गया कि कर्मी पंचायत चुनाव को लेकर प्रशिक्षण में गए हैं। इसके बाद दोनों बाहर इंतजार करने लगे। घायल छात्र ने प्राथमिकी में कहा है कि करीब एक बजे कर्मचारी ने आकर गेट खोला तो छात्र ने कहा कि काफी दिन से दौड़ाया जा रहा है। पैसा देने वालों का काम हो रहा है। पेंडिंग परिणाम के कारण 10 बार सीतामढ़ी से यहां का चक्कर काट चुके हैं। इसी बात को लेकर पार्ट टू के कर्मचारी अभिरेंद्र ने उसके साथ दु‌र्व्यवहार किया। जाति सूचक शब्द कहा, जब छात्र ने इसका विरोध किया तो अभिरेंद्र ने उसका सिर दीवार से टकरा दिया। वह लड़खड़ा कर गिर पड़ा। साथ आए युवक उसे उठाकर बाहर लाया। मौके पर पहुंची पुलिस ने छात्र को सदर अस्पताल पहुंचाया। इसके बाद उसने थाने में कर्मचारी के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई।

प्राथमिकी नहीं करने के लिए दबाव बना रहे थे कर्मचारी :

छात्र ने थाने पहुंच लिखित में शिकायत दी। इस बीच आरोपित कर्मी के समर्थन में कई कर्मचारी उतर आए। कर्मचारी नेता रामकुमार और अजय दोनों थानाध्यक्ष श्रीकांत सिन्हा के पास पहुंचे और प्राथमिकी दर्ज नहीं करने को कहा। थानाध्यक्ष ने कहा कि छात्र को गंभीर चोट आई है ऐसे में प्राथमिकी दर्ज की जाएगी और सख्त कार्रवाई भी होगी।

कुलपति को कर्मचारियों ने घटना से कराया अवगत : इस घटनाक्रम के दौरान कुलपति प्रो.हनुमान प्रसाद पांडेय विवि के एक कर्मचारी के निधन पर आयोजित शोकसभा में विवि पहुंचे। इसी बीच आरोपी कर्मचारी और उनके समर्थक कुलपति से मिले। सभी ने कुलपति से कहा कि कर्मचारी से छात्र और उनके साथी दु‌र्व्यवहार कर रहे थे। इसी क्रम में कर्मचारी ने अपने बचाव में उन्हें धक्का दिया और सिर फूट गया। कर्मचारियों ने थानाध्यक्ष पर भी अमर्यादित भाषा के प्रयोग का आरोप लगाया।

------------------

बयान ::

छात्र के साथ मारपीट की घटना दुखद है। परीक्षा विभाग में सीसी कैमरा लगा हुआ है। उसके फुटेज की जांच की जाएगी। यदि इसमें कर्मचारी की गलती सामने आई तो उनके विरुद्ध कार्रवाई होगी। कर्मचारी ने बताया कि छात्रों को बाहर निकाला जा रहा था इसी क्रम में चोट आ गई। कर्मचारियों द्वारा प्राथमिकी कराने से रोका जाना गलत है। छात्र को शिकायत करने का अधिकार है।

- डा.अजीत कुमार, कुलानुशासक, बीआरएबीयू

------------------ छात्र की ओर से कर्मचारी के खिलाफ मारपीट और जानलेवा हमला करने के साथ ही जातिसूचक शब्द कहने की लिखित शिकायत की है। कर्मचारी प्राथमिकी नहीं करने के लिए दबाव बना रहे थे। छात्र की शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। आगे की कार्रवाई की जा रही है।

- श्रीकांत सिन्हा, थानाध्यक्ष, विवि थाना

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.