पैट में धांधली का आरोप, अभाविप का आंदोलन शुरू

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की विवि इकाई की ओर से मंगलवार को विवि की अराजक स्थिति और अधिकारियों की मनमानी के खिलाफ अनिश्चितकालीन आंदोलन शुरू हो गया।

JagranWed, 22 Sep 2021 01:37 AM (IST)
पैट में धांधली का आरोप, अभाविप का आंदोलन शुरू

मुजफ्फरपुर : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की विवि इकाई की ओर से मंगलवार को विवि की अराजक स्थिति और अधिकारियों की मनमानी के खिलाफ अनिश्चितकालीन आंदोलन शुरू हो गया। छात्र नेताओं ने पैट-2020 के आयोजन में परीक्षा परिणाम में धाधली, परिणाम जारी करने में जानबूझकर गड़बड़ी करने का आरोप लगाया। विद्यार्थी परिषद के छात्र नेताओं ने कहा कि पीएचडी प्रवेश परीक्षा परिणाम में व्यापक स्तर पर भ्रष्टाचार हुआ है। पैट परीक्षा के नियम-अधिनियम को ताक पर रख कर परिणाम जारी किया गया है। इस मामले में अधिकारियों की सफाई भी संदेहास्पद है। कहा कि विश्वविद्यालय ने पैट के प्रश्नपत्र के लिए निजी एजेंसी को अधिकृत किया गया था। उसके द्वारा दिए गए दोनों पत्रों के लगभग सभी विषयों में 8-10 प्रश्न पत्र गलत पाए गए हैं। इसपर विभागाध्यक्षों व लगभग सैकड़ों अभ्यíथयों ने आपत्ति जताई है। महानगर मंत्री दीपंकर गिरि, जिला संयोजक पुष्कर सिंह, विभाग सह संयोजक प्रभात श्रीवास्तव, प्रशांत गौतम, अभिषेक सिंह आदि ने कहा कि अधिनियम में स्पष्ट रूप में वíणत है कि पैट परीक्षा में अहर्ता प्राप्त करने के लिए सामान्य कोटि के उम्मीदवारों को प्रत्येक पेपर में अलग- अलग 50 फीसद व आरक्षित कोटि के उम्मीदवारों के लिए 45 फीसद अंक लाना अनिवार्य है। ऐसे में कई छात्रों को प्रथम पत्र में छह अंक, 14 अंक, 20 अंक व शून्य अंक हैं। उन्हें दूसरे पेपर में 98 अंक तक देकर पास करा दिया गया है। विवि के अधिकारियों ने धांधली कर ऐसे 460 अभ्यíथयों को पास करा दिया है। छात्र नेताओं ने विवि के पीजी विभाग व छात्रावासों की जर्जर हालत व कुव्यवस्था, शुद्ध पेयजल, शौचालय जैसी मूलभूत सुविधा नहीं मिलने की ओर विवि के अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराया। आदोलन का नेतृत्व विवि संयोजक सह सीनेटर केशरी नंदन शर्मा ने किया। मौके पर राहुल कुमार, प्रभात मिश्रा, मयंक मिश्रा, रणविजय सिंह, प्रिंस कुमार, अनिकेत कुमार, आदित्य चौधरी सहित सैकड़ों छात्र उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.