Muzaffarpur Crime : सौतेली मां ने पति और अपने बेटे के साथ मिलकर युवक को मार डाला, जानिए क्या थी वजह...

हरपुर गांव में पिता, सौतेली मां व सौतेले भाई ने मिलकर एक युवक को मार डाला (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Muzaffarpur Crime मुजफ्फरपुर जिले के सकरा थाना क्षेत्र अंतर्गत रामपुर कृष्ण पंचायत के हरपुर गांव में पिता सौतेली मां व सौतेले भाई ने मिलकर एक युवक को पीट-पीटकर मार डाला। मृतक की पत्नी को लेकर घर में होता रहता था विवाद।

Vinay PankajWed, 03 Mar 2021 09:14 PM (IST)

मुजफ्फरपुर, जागरण संवाददाता। मुजफ्फरपुर जिले के सकरा थाना क्षेत्र अंतर्गत रामपुर कृष्ण पंचायत के हरपुर गांव में बुधवार की दोपहर पारिवारिक विवाद को लेकर पिता, सौतेली मां व सौतेले भाई ने मिलकर एक युवक को पीट-पीटकर मार डाला। मृतक की पहचान लखन दास के 26 वर्षीय पुत्र मुकेश दास के रूप में की गई है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर शव को पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेज दिया।

सौतेली मां का बहू से होता था झगड़ा :

मिली सूचना के मुताबिक मुकेश दास मजदूरी करता था। दिनभर की कमाई के पैसे अपने पिता व बच्चों पर खर्च करता था, लेकिन मुकेश की सौतेली मां शीला देवी उसकी पत्नी कविता देवी से हमेशा झगड़ती तथा उसके साथ दुव्र्यवहार करती थी। इस कारण वर्ष 2012 में शादी के बाद से वह कभी- कभार ही घर पर रहती। अधिक समय अपने मायके मारकन में ही रहती थी।

पत्नी से बराबर लड़ाई को लेकर मुकेश ने अपने माता-पिता को ऐसा नहीं करने के लिए कहा, लेकिन मां सौतेले पुत्र, उसकी पत्नी व बच्चे को देखना नहीं चाह रही थी। वह अपने दो पुत्रों को ही अपना संतान मानती थी। मुकेश के पिता लखन दास भी पत्नी की बातों में आकर पुत्र को कोसते रहते थे।

निमर्मता से पिटाई में हुई मौत :

बुधवार को पिता, सौतेली मां व सौतेले भाई के साथ मुकेश का घरेलू विवाद हो रहा था। अंतत: सौतेली मां, उसके पुत्र व पिता तीनों ने मिलकर मुकेश की इतनी निमर्मता से पिटाई की जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

ग्रामीएाों ने पुलिस को दी घटना की सूचना :

घटना के बाद तीनों भागने की फिराक में थे, लेकिन ग्रामीणों ने उन्हें घेरे रखा। ग्रामीणों ने इसकी सूचना सकरा पुलिस को दी। थानाध्यक्ष रामनाथ प्रसाद ने मौके पर पहुंचकर मुकेश के हत्यारे पिता लखन दास, मां शीला देवी व भाई गणेश कुमार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने शव को अंत्यपरीक्षण के लिए एसकेएमसीएच भेज दिया। थानाध्यक्ष ने बताया कि घटना के संदर्भ में स्वजनों द्वारा अबतक कोई लिखित आवेदन प्राप्त नहीं हुआ है। लिखित आवेदन मिलते ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

पिता पर पूर्व में पुत्री की हत्या का भी आरोप :

उधर, गांव में घटना को लेकर लखन दास व उसके स्वजनों के खिलाफ ग्रामीणों में काफी आक्रोश था। ग्रामीणों का आरोप है कि लखन दास ने पूर्व में अपनी सौतेली पुत्री की भी हत्या कर दी थी जिसे लेकर गांव में पंचायत भी हुई। मामला पुलिस तक नहीं जाने से लखन दास का मनोबल बढ़ता गया और आज उसने दूसरी घटना को अंजाम दे दिया।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.