INDIAN RAILWAY: ... तो जनसाधारण नहीं इसे अब अंत्योदय एक्सप्रेस कहें, जानें क्या कुछ बदलने जा रहा

मुजफ्फरपुर/पटना, जेएनएन। दरभंगा और अहमदाबाद के बीच चलने वाली ट्रेन संख्या 15559/ 15560 दरभंगा -अहमदाबाद-दरभंगा जनसाधारण एक्सप्रेस को आरामदायक बनाने के लिए एलएचबी कोच लगाए जा रहे हैं। इसे अंत्योदय एक्सप्रेस के रूप में परिवर्तित किया जा रहा है। दरभंगा से यह 20 नवंबर तथा अहमदाबाद से 22 नवंबर से नई व्यवस्था प्रभावी होगी। 550 से अधिक यात्रियों के बैठने की व्यवस्था होगी।

सीपीआरओ राजेश कुमार ने बताया कि जनसाधारण एक्सप्रेस को अंत्योदय ट्रेन के रूप में परिवर्तन से बिहार से वाराणसी, प्रयागराज, जबलपुर, भुसावल, सूरत, वडोदरा एवं अहमदाबाद जैसे प्रमुख शहरों की यात्रा आरामदायक होगी। इस ट्रेन में बायो टॉयलेट, पर्याप्त मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट जैसी कई सुविधाएं हैं। ये यात्रा को सुखद बनाती हैं।

अंत्योदय के कोच की विशेषताएं :

- सामान रखने के लिए गद्देदार रैक की व्यवस्था, यह भीड़-भाड़ के समय सीट का भी काम करेगी

- कोच के दरवाजे की तरफ अतिरिक्त हैंडल की व्यवस्था

- रैक के पास सामान रखने के लिए हुक की व्यवस्था

- सेकेंड्री सस्पेंशन में एयर स्प्रिंग युक्त फिट बोगी

- एक कोच से दूसरे कोच में आने-जाने की बेहतर व्यवस्था

- एक्वागार्ड की तरह के फिल्टर वाले पेयजल की सुविधा (प्रत्येक कोच में 02)

- ज्यादा संख्या में मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट (प्रत्येक कोच में 20)

- आधुनिक सुविधाओं से युक्त बायो-टॉयलेट की सुविधा

- प्रत्येक कोच में दो अग्निशामक यंत्र

- आकर्षक बाह्य एवं अंदरूनी रंग योजना  

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.