Muzaffarpur: तीसरे लहर में ऑक्सीजन को लेकर आत्मनिर्भर बनेगा SKMCH, जानें क्या चल रही तैयारी

Muzaffarpur Coronavirus Update SKMCH में ऑक्सीजन निर्माण की क्षमता बढाने की चल रही कवायद पांच सौ बेड की तैयारी। सदर अस्पताल में आईसीसी यू व पीकू वार्ड को किया जा रहा मजबूत। 20 टन क्षमता का मंगाया जा रहा एक टैंकर अभी एक टैंकर ललाने का चल रहा काम ।

Murari KumarSun, 06 Jun 2021 06:51 PM (IST)
तीसरे लहर में ऑक्सीजन को लेकर आत्मनिर्भर बनेगा एसकेएमसीएच।

मुजफ्फरपुर, जागरण संवााददाता। कोरोना के दूसरे लहर में फजीहत झेल चुका स्वास्थ्य विभाग तीसरे लहर की अशंका को देखते हुए अभी से कमर कस रहा है। जानकारों की मानों तो नवम्बर में तीसरी लहर आने के संकेत मिल रहे है। एसकेएमसीएच में 20 टन का क्रायोजेनिक टैंक मंगाया जा रहा है। वहीं पहले से एक डीआरडीओ का 20 टन क्षमता वाला टन उपलब्ध है। 100 ऑक्सीजन कंट्रेस्टर रहेगा जो सीधे वाायुमंडल से ऑक्सीजन आवश्यक्तानुसार बना लेगा। वहीं सदर अस्पाताल में पीकू वार्ड व आईसीयू को दुरूस्त किया जा रहा है। पीकू वार्ड व आईसीयू में बेड की संख्या बढाई जाएगी।

इस तरह से चल रही तैयारी

एसकेएमसीएच के प्राचार्य डा.विकास कुमार ने बताया कि इस बार कोरोना को लेकर 324 बेड का इंतजाम किया गया। लेकिन ऑक्सीजन का संकट झेलना पड़ा। लेकिन अब लहर नहीं है तथा सारी सि्िथति नियंत्रण में है। ऑक्सीजन संकट नहीं हो इसके लिए 20-20 टन का दो क्रायोजेनिक टैंक उपलब्ध होगी। एक सौ बेड का चलंत अस्पताल आईसीआईसी आई की मदद से तैयार हो रहे है। उस यूनिट का अपना खुद ऑक्सीजन कंट्रेटर रहेगा। एक हजार लीटर प्रतिदिन ऑक्सीजन का उत्पादन परिसिर में हो इसकी तैयारी है। इसके साथ वायुमंडल से ऑक्सीजन बनाने वाला यानी ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर भी जिेेनरल वार्डज् से लेकर पीकू वार्ड तक उपलब्ध रहेगा। इसकी पूरी तरह से तैयारी चल रही है। किसी तरह की कमी नहीं रहने दी जाएगी। सरकारी से लेकर गैर सरकारी स्तर पर लोग ऑक्सीजन में सहयोग को आगे आ रहे है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.