Sitamarhi: कोरोना को मात देकर सिंहवाहिनी पंचायत की मुखिया रितू जायसवाल ने अपने गांव में ही खोल दिया कोविड केयर सेंटर

साेनबरसा प्रखंड की सिंहवाहिनी पंचायत में नरकटिया गांव में संचालित कोविड केयर सेंटर को खुद संभालतीं मुखिया रितू जायसवाल।

Sitamarhi News नरकटिया गांव में संचालित कोविड केयर सेंटर को खुद संभालतीं मुखिया रितू जायसवाल जरूरतमंंदों को हर तरह से मदद। कोरोना महामारी से जूझते हुए जिंदगी की जंग जीतने के बाद रितू जायसवाल ने जरूरतमंदों की मदद के लिए अपने गांव में ही कोविड केयर सेंटर खोल दिया है।

Murari KumarSun, 16 May 2021 06:53 PM (IST)

सीतामढ़ी, जागरण संवाददाता। कोरोना के लक्षण दिखे तो डॉक्टरी परामर्श व मुफ्त दवाइयों के लिए सोनबरसा प्रखंड की सिंहमुखिया पंचायत की महिला मुखिया रितु जायसवाल से संपर्क किया जा सकता है। कोरोना महामारी से जूझते हुए जिंदगी की जंग जीतने के बाद रितू जायसवाल ने जरूरतमंदों की मदद के लिए अपने गांव में ही कोविड केयर सेंटर खोल दिया है। रितु जायसवाल का कहना है कि ऐसी महामारी, आपदा एवं संकट हमने पहली बार देखा है। बहुत बड़ी चुनौती हमारे सामने आई है। पिछले साल के कोरोना वायरस की तुलना में इस वर्ष कोरोना वायरस का प्रभाव बहुत ज्यादा है। इससे निपटने के लिए सरकार अपने स्तर पर तो प्रयास कर रही है, लेकिन समाज के सभी वर्गों की एकजुटता इस लड़ाई से जीतने के लिए जरूरी है। सभी अपने-अपने गांव एवं परिवार को सुरक्षित रखें। गांवों को कोरोना मुक्त रखने के लिए युद्ध स्तर पर प्रयास होना चाहिए इसी मकसद से कोविड केयर सेंटर खोला गया है। मरीजों के संक्रमित होने के साथ ही प्रारंभिक स्तर पर उपचार शुरू हो यही हमारा प्रयास रहे। उन्होंने कहा कि एकजुटता एवं संकल्प के साथ इस आपदा का सामना करें। समस्या है तो समाधान भी है। हम आप सबके प्रयासों से इस कोरोना की जंग से जरूर जीतेंगे।

कोरोना से डरिए नहीं लड़िए, हौसला रखिए

तीन दिनों से हमने कोविड केयर सेंटर की शुरुआत की है। पूरे दिन लोगों की सेवा में खुद मुस्तैद रहती हूं। यह सेंटर हमारी पंचायत सिंहवाहिनी एवं हमारे विधानसभा क्षेत्र परिहार और आस पास के लोगों के लिए खोला गया है। मगर, सीतामढ़ी जिले में दूसरे किसी इलाके से भी जरूरतमंद आएंगे तो उनको भी जरूर मदद दी जाएगी। कोविड से संक्रमित मरीजों के लिए लक्षण के आधार पर बेहतरीन डॉक्टर्स की टीम के द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से परामर्श लेकर सभी जरूरी दवाईयां बिल्कुल निशुल्क उपलब्ध कराई जा रही हैं। सेंटर हमारे गांव नरकटिया स्थित हमारे घर से ही चल रहा है। रविवार को कुल 15 मरीजों को उचित सलाह के बाद दवाईयां दी गईं। तमाम लोगों से अनुरोध है लक्षण दिखने पर एकदम बेचैन या परेशान न हों। हम हैं आपके लिए यह टैगलाइन इसीलिए दिया गया है ''क्योंकि हम सब एक परिवार हैं''। दवाइयां बाजार में न मिले या खरीदने में सक्षम न हों या सरकारी तंत्र मदद नहीं कर पा रही है या ऑक्सीजन लेवल नीचे आता है तो फिर भी एकदम चिंता न करें, आप हमें सूचना दें, हम हैं आपके लिए। समाज के कई जागरूक व सक्षम लोग मदद के लिए खड़े हैं। दुःख की घड़ी है, मिल कर लड़ना है और जीतना है। किसी भी तरह की इंक्वाॅयरी के लिए 8709627094 पर संपर्क कर सकते हैं। फोन न उठने की स्थिति में इस नंबर पर मैसेज भेजा जा सकता है।

टेली कंस्लटेशन के जरिए डॉक्टर्स की टीम मरीजों को दे रही उचित व जरूरी सलाह

हमारे पास धन-दौलत तो उनती नहीं है लेकिन, जो सबसे कीमती चीज है कर्तव्यनिष्ठा, सेवाभाव, समर्पण, ईमानदारी, अनुशासन वो हमारे पास है और सबसे बड़ी चीज किसी भी मुसीबत का सामना करने की ताकत भी है। उन्होंने कहा कि इस मुश्किल घड़ी में हम पीड़ित मानवता की मदद के लिए आगे आए हैं। पंचायत व क्षेत्र के तमाम जागरूक और सक्षम लोग इस मुहिम में पूरा साथ दे रहे हैं। जहां-जहां जिसकी जरूरत है हम वो देने के लिए तैयार हैं। टेली कंस्लटेशन के जरिए डॉक्टर्स की टीम मरीज की मदद कर रहे हैं। मैं हर क्षेत्र की तमाम जनता को हक के साथ आश्वासन देती हूं कि इस मुश्किल घड़ी में उनके लिए लिए चौबीसों घंटे खड़ी हूं। उनके परिवार की जिम्मेदारी लेती हूं तथा उनके बच्चों, परिवार की महिलाओं का ख्याल रख रही हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.