बेहतर स्वास्थ्य सुविधा देने का मॉडल बनाकर समस्तीपुर सदर अस्पताल टॉप पर

उपाधीक्षक डॉ. गिरीश कुमार व अस्पताल प्रबंधक विश्वजीत रामानंद के निर्देशन में मॉडल बनाने में जीएनम लुसी कुमारी शशि प्रभा रेणु भारती सोनी कुमारी की अहम भूमिका रही। केयर इंडिया की डॉ. राधिका राज पंडिता व कुमारी श्वेता की देखरेख में मॉडल बनाया गया था।

Ajit KumarWed, 22 Sep 2021 08:26 AM (IST)
विश्व रोगी सुरक्षा दिवस पर हुई जिला स्तरीय मॉडल व पोस्टर प्रतियोगिता। फोटो- जागरण

समस्तीपुर, जासं। विश्व रोगी सुरक्षा दिवस के अवसर पर जिला स्तरीय प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। अध्यक्षता सिविल सर्जन डॉ. सत्येंद्र कुमार गुप्ता ने की। इसमें सभी संस्थान ने पोस्टर का प्रदर्शन किया। इसमें समस्तीपुर सदर अस्पताल टॉप पर रहा। इस पोस्टर में कम समय में मरीज को बेहतर सुविधा देने और अज्ञात महिला मरीज का सुरक्षित प्रसव कराने की जानकारी दी गई थी। उपाधीक्षक डॉ. गिरीश कुमार व अस्पताल प्रबंधक विश्वजीत रामानंद के निर्देशन में मॉडल बनाने में जीएनम लुसी कुमारी, शशि प्रभा, रेणु भारती, सोनी कुमारी की अहम भूमिका रही। केयर इंडिया की डॉ. राधिका राज पंडिता व कुमारी श्वेता की देखरेख में मॉडल बनाया गया था। अनुमंडलीय अस्पताल पूसा ने द्वितीय एवं अनुमंडलीय अस्पताल रोसड़ा ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। तीनों संस्थान को प्रशंसा पत्र देकर पुरस्कृत किया गया। मौके पर अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. विनोद कुमार सिंह, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. सतीश कुमार सिन्हा, जिला गैर संचारी पदाधिकारी डॉ. विजय कुमार, जिला कार्यक्रम प्रबंधक सौरेंद्र कुमार दास, जिला योजना समन्वयक डॉ. आदित्य नाथ झा, गुणवत्ता यकीन के जिला सलाहकार डॉ. ज्ञानेंद्र कुमार, सुमंत कुमार सिंह सहित सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी और स्वास्थ्य प्रबंधक उपस्थित रहे।

सुरक्षित मातृ व शिशु देखभाल के तहत मनाया गया दिवस

सिविल सर्जन ने कहा कि रोगी सुरक्षा के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए विश्व रोगी सुरक्षा दिवस मनाया गया। रोगी सुरक्षा एक वैश्विक सार्वजनिक स्वास्थ्य चिंता है जो स्वास्थ्य देखभाल का एक मूलभूत सिद्धांत है। इसका मुख्य उद्देश्य दुनिया के सभी हिस्सों में रोगी सुरक्षा के मुद्दों के बारे में जागरूकता बढ़ाना है। इस वर्ष विश्व स्वास्थ्य संगठन का थीम सुरक्षित मातृ व शिशु देखभाल घोषित किया गया है। 

महिला बंदी की बच्ची एसकेएमसीएच में भर्ती

जासं, मुजफ्फरपुर : हत्या के मामले में जेल में बंद विचाराधीन बंदी पूजा कुमारी की दो माह की बच्ची को एसकेएमसीएच में भर्ती कराई गई है। उसे सांस लेने में परेशानी हो रही थी। मंगलवार की सुबह जेल के चिकित्सकों ने उसे एसकेएमसीएच रेफर कर दिया। बच्ची के साथ पूजा को भी पुलिस अभिरक्षा में रखा गया है। जेल उपाधीक्षक सुनील कुमार मौर्य ने बताया कि अहियापुर के एक युवक की हत्या के मामले में पूजा आरोपित है। जेल में आने से पहले ही वह गर्भवती थी। दो माह पहले वह बच्ची को जन्म दी थी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.