समस्तीपुर में आरक्षण काउंटर से पकड़ा गया रेलवे टिकट का हेराफेरी करने वाला

Samastipur news दरअसल आरपीएफ पोस्ट प्रभारी आलम अंसारी को इस बात की सूचना मिली थी एक युवक आम यात्रियों से पांच-पांच सौ रुपया लेकर उनकी टिकट कटवाता है। इसी सूचना पर पीआरएस को भी अलर्ट किया गया।

Dharmendra Kumar SinghSat, 12 Jun 2021 10:14 PM (IST)
आरपीएफ की गिरफ्त में टिकट हेराफेरी करने वाला व्यक्ति। जारगण

समस्तीपुर, जासं। स्थानीय जंक्शन स्थित आरक्षण काउंटर से एक युवक को टिकट हेराफेरी करने के आरोप पीआरएस कर्मियों ने पकड़ा। बाद में उसे आरपीएफ के हवाले कर दिया। उसकी पहचान मुफस्सिल थाना के मुसापुर निवासी सत्तो दास के पुत्र चंदन कुमार के रूप में हुई है। दरअसल आरपीएफ पोस्ट प्रभारी आलम अंसारी को इस बात की सूचना मिली थी एक युवक आम यात्रियों से पांच-पांच सौ रुपया लेकर उनकी टिकट कटवाता है। इसी सूचना पर पीआरएस को भी अलर्ट किया गया। तत्काल टिकट का नंबर देने के क्रम में आरक्षण पर्यवेक्षक शशिकांत सिंह को भी इसका संदेह हुआ तो उस युवक की जांच की। शंका पुख्ता होने पर पहले से ऑन डयूटी आरपीएफ को सौंप दिया। आरपीएफ की अवर निरीक्षक निशा कुमारी, सीआईबी के एसआई रामनाथ एवं कांस्टेबल दीपक कुमार ने जांच के क्रम में उसके पास से 2820 रुपये का एक आरक्षित टिकट, 2220 रुपये का एक कैंसिल टिकट, एक मोबाइल एवं बिना भरा हुआ तीन आरक्षण फार्म बरामद किया।

ललित उद्यान पार्क को हेरिटेज के रूप में विकसित करेगा रेलवे

रेलवे ऑफिसर कॉलोनी स्थित ललित उद्यान पार्क को रेलवे हेरिटेज के रूप में विकसित करेगा। पीपीपी मॉडल के रूप में इस स्थान का उपयोग कैफेटेरिया, रेस्टोरेंट या अन्य मॉडल के लिए किया जा सकेगा। ताकि इससे रेलवे को आय भी हो सके और रेलवे हैरिटेज को बढ़ावा भी मिल सके। मंडल रेल प्रबंधक ने शनिवार को उक्त स्थल का निरीक्षण भी किया। उन्होंने सीनियर डीईएन कोर्डिनेशन आरएन झा, सीनियर डीएमई रविश रंजन एवं सीनियर डीईई नवीन कुमार को इससे संबंधित कई आवश्यक निर्देश भी दिया।

झारखंड में पदस्थापित दारोगा के घर से लाखों की चोरी

समस्तीपुर । मुफस्सिल थाना क्षेत्र के जितवारपुर चौथ स्थित एक घर से चोरों ने लाखों की संपत्ति चोरी कर ली। बताया जाता है कि झारखंड के हजारीबाग में पदस्थापित दारोगा प्रदीप कुमार के जितवारपुर चौथ स्थित आवास में कई महीने से ताला बंद था। उनके माता-पिता अपने पुत्र के घर ही रहा करते थे। शनिवार को जब प्रदीप की मां अपने आवास पर आई तो घर के अंदर का सामान बिखड़ा पाया। घर में रखे नगदी, जेवरात और बेशकीमती कपड़े भी गायब मिले। इसकी सूचना पीडि़त परिवार ने पुलिस को दी। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच की। बताया जाता है कि चोरों ने लंबे समय से घर के दरवाजे को बंद देखकर घर के पिछवाड़े से अंदर में प्रवेश किया और हाथ सफाई कर डाली।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.