किसान नेता की गिरफ्तारी के खिलाफ माले का प्रतिवाद जुलूस

भाकपा माले बोचहा पार्टी कार्यालय से जुलूस प्रखंड मुख्यालय गेट तक निकाला गया जिसका नेतृत्व माले व किसान महासभा के राज्य परिषद सदस्य बिंदेश्वर साह ने किया।

JagranPublish:Sat, 15 Aug 2020 01:12 AM (IST) Updated:Sat, 15 Aug 2020 01:12 AM (IST)
किसान नेता की गिरफ्तारी के खिलाफ माले का प्रतिवाद जुलूस
किसान नेता की गिरफ्तारी के खिलाफ माले का प्रतिवाद जुलूस

मुजफ्फरपुर : भाकपा माले बोचहा पार्टी कार्यालय से जुलूस प्रखंड मुख्यालय गेट तक निकाला गया जिसका नेतृत्व माले व किसान महासभा के राज्य परिषद सदस्य बिंदेश्वर साह ने किया। उन्होंने कहा कि किसान महासभा के राष्ट्रीय सचिव बालेंद्र सैकिया को झूठे मुकदमे में असम की सरकार ने गिरफ्तार किया है जिसका विरोध पूरा देश कर रहा है। देश के किसान- मजदूर सरकार से पूछ रहे हैं कि आखिर सरकार की नीतियों का विरोध करने वालों को क्यों प्रताड़ित किया जा रहा है। यह लोकतंत्र के लिए बड़ा खतरा है। देश के चíचत बुद्धिजीवी लेखक बरबरा राव, गौतम नवलखा, डॉ. कफील खान, अखिल गोगोई, पुरुषोत्तम शर्मा, बालेंद्र सैकिया को जेल में बंद कर सरकार विरोध की आवाज दबाना चाहती है। सरकार इन सबकी अविलंब रिहाई करे। जुलूस में रामनंदन पासवान, प्रखंड सचिव रामबालक सहनी, राजेश राम, अर्जुन पासवान, लक्ष्मी रावत, वीरेंद्र पासवान, राज किशोर राम आदि शामिल हुए।

सीओ का पुतला दहन करने आए लोगों को पुलिस ने खदेड़ा

पारू प्रखंड मुख्यालय पर रामपुरकेशो मलाही समेत कई पंचायतों के बाढ़ पीड़ितों को सरकारी राहत नहीं देने के खिलाफ परिवर्तनकारी संघर्ष मोर्चा के बैनर तले सीओ का पुतला दहन करने आए प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने खदेड़ दिया। वहीं, मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष विजय कुमार समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस की इस कार्रवाई से मोर्चा सदस्यों और बाढ़ पीड़ितों में आक्रोश है। गिरफ्तारी और पिटाई के डर से भागे रामपुरकेशो मलाही के बाढ़ पीड़ितों ने बताया कि 27 जुलाई से हमलोग सीओ से राहत की माग कर रहे हैं, लेकिन सीओ पर कोई असर नहीं पड़ रहा था। आजिज होकर हमलोग सीओ के खिलाफ प्रदर्शन करने आए थे। बता दें कि दो दिनों पूर्व परिवर्तनकारी संघर्ष मोर्चा के पदाधिकारी सोनू पाठक के नेतृत्व में सीओ के खिलाफ प्रखंड मुख्यालय पर प्रदर्शन किया गया था। सीओ ललित कुमार सिंह ने बिना मास्क पहने, आपदा जैसे कार्यो में बाधा डालने और कोविड 19 के नियमों का उल्लंघन करने का आरोप लगाते हुए सोनू पाठक के खिलाफ गुरुवार को प्राथमिकी दर्ज कराई थी। थानाध्यक्ष फैसल अहमद अंसारी ने बताया कि सीओ द्वारा दर्ज कराई गई प्राथमिकी के आधार पर आरोपित सोनू पाठक और दो अप्राथमिकी आरोपित विजय कुमार और मनोज कुमार को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।