top menutop menutop menu

Muzaffarpur Unlock 3.0: पुलिस ने चटकाई लाठियां, छह बजते ही बंद कराई दुकानें

Muzaffarpur Unlock 3.0: पुलिस ने चटकाई लाठियां, छह बजते ही बंद कराई दुकानें
Publish Date:Mon, 03 Aug 2020 09:58 PM (IST) Author: Murari Kumar

मुजफ्फरपुर, जेएनएन। लॉकडाउन में मिली रियायत के तहत सोमवार से जिले में होटल-रेस्टारेंट को छोड़ तमाम बाजार, दुकान और प्रतिष्ठान खुले। प्रशासनिक शर्तों का पालन करते हुए कारोबारियों ने लंबे समय बाद कारोबार की शुरुआत की। पहले दिन ग्राहकों की भीड़ से बाजार गुलजार रहा। लोगों ने जमकर खरीदारी की।  ग्राहकों की भीड़ से शहर में जाम लगा रहा।

 भगवानपुर, दरभंगा रोड, जीरोमाइल, माड़ीपुर, सरैयागंज, कल्याणी, मोतीझील, तकलक मैदान रोड, जवाहर लाल रोड, सूतापट्टी, क्लब रोड, मिठनपुरा, सादपुरा, अघोरिया बाजार, कन्हौली और बेला रोड के इलाकों में जाम लगा रहा। बीच-बीच में होती बारिश के बावजूद लोगों की आवाजाही जारी रही। इस दौरान, कपड़ा, आभूषण, इलेक्ट्रिक, इलेक्ट्रानिक्स, ग्रोसरी, जूते-चप्पल आदि का कारोबार खूब चला।

जबरन दुकानें बंद कराने पर जताई नाराजगी

सोमवार को पहले दिन कारोबार जमकर चला। हालांकि, छह बजते ही बाजार वीरान हो गया। पुलिस ने सरैयागंज, सूतापट्टी, जवाहर लाल रोड, गोला रोड, तकलक मैदान, भगवानपुर और माड़ीपुर समेत विभिन्न इलाकों में माइकिंग कर दुकानें बंद करा दी। कई इलाकों में पुलिस ने जबरन शटर बंद कराया। इस दौरान दुकानदारों पर लाठियां भी चटकाई। उधर, पुलिस द्वारा जबरन दुकान बंद कराने पर उत्तर बिहार वाणिज्य एवं उद्योग परिषद  ने नाराजगी जताई है।

 मीडिया प्रभारी सज्जन शर्मा ने कहा कि 31 जुलाई को जिलाधिकारी की अध्यक्षता में हुई परिषद की बैठक में सोमवार से शुक्रवार तक समस्त व्यापारिक गतिविधियों के संचालन का निर्णय लिया गया था। बताया गया था कि रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक कफ्र्यू रहेगा। अन्य सभी समय मे व्यापारिक गतिविधियों का संचालन होगा।  शनिवार और रविवार को दवा, दूध और पेट्रोल पंप को छोड़ कर तमाम व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। बावजूद इसके पुलिस द्वारा जबरन दुकानें बंद कराई गई। उन्होंने जिलाधिकारी से इस संबंध में स्पष्ट दिशा निर्देश जारी करने की मांग की है। 

जाम के चलते थमी रही रफ्तार

शहर में ग्राहकों की उमड़ी भीड़ से जाम लगा रहा। शहर की तमाम गली और प्रमुख सड़कों पर वाहनों और आम जनता की भीड़ से अफरातफरी की स्थिति रही। हालत यह कि एक किमी का सफर तय करने में लोगों को घंटा भर का समय लग गया। जाम के चलते शारीरिक दूरी का उल्लंघन होता रहा। तैनात पुलिस कर्मियों को जाम पर काबू पाने में पसीने निकलते रहे। हालांकि, सरैयागंज, जीरोमाइल और भगवानपुर में पुलिस ने हल्की लाठियां चटका कर भीड़ को नियंत्रित किया। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.