बारिश के पानी में तैर रहा शहर, शहरवासी कर रहे त्राहिमाम

मंगलवार को दोपहर में हुई घंटेभर की बारिश से स्मार्ट सिटी तैरने लगी।

JagranWed, 11 Aug 2021 01:50 AM (IST)
बारिश के पानी में तैर रहा शहर, शहरवासी कर रहे त्राहिमाम

मुजफ्फरपुर : मंगलवार को दोपहर में हुई घंटेभर की बारिश से स्मार्ट सिटी तैरने लगी। मुख्य सड़कों पर दरिया बहने लगा और गली-मोहल्ले टापू बन गए। बाजार की अधिकतर दुकानों और लोगों के घरों में बारिश का पानी प्रवेश कर गया है। इससे व्यवसायियों को भारी नुकसान हुआ है। लोगों का जीना मुहाल हो गया है। शहर में हर तरफ पानी ही पानी होने से जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया। जलजमाव की पीड़ा झेल रहे शहरवासी त्राहिमाम कर रहे हैं।

सदर अस्पताल, समाहरणालय, कचहरी, इमलीचट्टी बस स्टैंड और कस्टम, जिला परिवहन व निबंधन समेत कई अन्य कार्यालयों में पानी भर गया। कर्मियों व आम लोगों को कार्यालय आने-जाने में परेशानियों का सामना करना पड़ा। वहीं, मोतीझील, अघोरिया बाजार, सादपुरा, मिठनपुरा और स्टेशन रोड, आमगोला, कलमबाग, बटलर, बेला, देवी मंदिर, अमर सिनेमा, जवाहर लाल, तिलक मैदान, गरीब स्थान, बनारस बैंक चौक, पक्की सराय, जेल, कालीबाड़ी, सदर अस्पताल, रामबाग व संजय सिनेमा रोड समेत शहर की सभी मुख्य सड़कों पर दो से तीन फीट तक पानी बह रहा है। कल्याणी चौक पूरी तरह से पानी में डूबा हुआ है। मोतीझील में सबसे अधिक पानी जमा है। सड़क को एक फीट ऊंचा करने के बाद भी क्लब रोड में पानी लगा है। जुब्बा सहनी पार्क व आडिटोरियम पूरी तरह से पानी में डूबे हैं।

मोतीझील, क्लब रोड, चर्च रोड, धर्मशाला रोड, चैपमैन स्कूल रोड, बालूघाट रोड स्थित मकानों व दुकानों में पानी घुस गया है। इससे घरों में लोगों को भोजन पर भी आफत हो गई है। दुकानों में पानी घुसने से दुकानदारों को भी भारी नुकसान हुआ है।

गली-मोहल्लों की हालत यह कि लोगों को समझ में नहीं आ रहा है कि वे क्या करें? पहले से ही कई मोहल्ले पानी में डूबे थे। मंगलवार को बारिश ने उनकी पीड़ा और बढ़ा दी। लोग घरों में कैद हो गए हैं। अमरूद बगान, रज्जू साह लेन, दास कालोनी, प्रोफेसर कालोनी, डा. रामचंद्र पूर्वे गली, वीसी लेन, जगदीशपुरी, विश्वविद्यालय प्रेस गली, माड़ीपुर स्कूल रोड, पड़ाव पोखर लेन, केदारनाथ रोड, गोला बांध रोड समेत शहर के अधिकतर मोहल्लों में रहने वालों का जीना मुहाल हो चुका है।

------------------------पानी निकालने में विफल साबित हो रहा निगम

उड़ाही के बाद भी शहर के अधिकतर नाले बारिश का पानी नहीं निकाल पा रहे हैं। पानी निकालने में नगर निगम हांफ रहा है। फरदो नाला उफना रहा है। कहीं-कहीं तो इसका पानी सड़क के ऊपर बह रहा है। गली-मोहल्लों के नाले बेदम हो चुके हैं। उनसे पानी नहीं निकल रहा है। नगर निगम के कर्मचारी पानी निकालने के नाम पर सिर्फ लाठी पीट रहे हैं।

-----------------------

जलजमाव से लोगों का जीना मुहाल हो गया है। मोहल्ले में लगा पानी नहीं निकल रहा है। लोग त्राहिमाम कर रहे हैं, लेकिन उनकी सुध लेने वाला कोई नहीं है।

राकेश पटेल, आमगोला मोहल्ले में एक माह से पानी लगा है। निगम इसको निकालने की कोई व्यवस्था नहीं कर रहा है। लोगों में निगम के प्रति नाराजगी है।

संजय कुमार सिंह, बीबीगंज जलजमाव से लोग त्रस्त हैं। वे इससे निजात के लिए दौड़ लगा रहे हैं। उनकी पीड़ा से नगर निगम को अवगत कराया जा चुका है, लेकिन वह निदान नहीं कर पा रहा है।

शिवशंकर महतो, वार्ड पार्षद जमा पानी निकालने के लिए निगम के सफाईकर्मी लगातार प्रयास कर रहे हैं। पंपिंग सेट लगाकर मोहल्लों में जमा पानी निकाला जा रहा है। लगातार सफाई की जा रही है। हर दिन हो रही बारिश से परेशानी बढ़ गई है।

ओम प्रकाश, सिटी मैनेजर बारिश पूर्व नालियों की उड़ाही कराई गई थी। इसके बाद भी जलजमाव की स्थिति बनी है। समस्या का निदान कैसे हो इसके लिए अभियंताओं की बैठक बुलाई गई है। प्राथमिकता के आधार पर जलजमाव वाले मोहल्लों से पानी निकालने का प्रयास किया जा रहा है।

मानमर्दन शुक्ला, प्रभारी महापौर

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.