BPSC 64th Result 2021: समस्तीपुर की नेहा ने नौकरी के साथ की तैयारी, बिना कोचिंग क्लियर की परीक्षा, मिला 124वां रैंक

BPSC 64th Result 2021 समस्तीपुर की नेहा ने नौकरी के साथ-साथ बीपीएससी की तैयारी की और पहले प्रयास में परीक्षा को पास कर लिया। उसने 124वां रैंक मिली है। उसका चयन सोशल सिक्योरिटी विभाग में असिस्टेंट डायरेक्टर के पद पर चयन हुआ है।

Murari KumarMon, 07 Jun 2021 04:38 PM (IST)
समस्तीपुर। अपने माता-पिता के साथ नेहा कुमारी।

समस्तीपुर, जागरण संवाददाता। बीपीएससी की परीक्षा हल साल लाखों छात्र भाग लेते हैं। इसका सफर बेहद कठिन होता है, लेकिन हर साल कुछ ऐसे छात्र-छात्रा जरूर मिलते हैं जो कई प्रयास के बाद भी हिम्मत नहीं हारते और इस परीक्षा को क्लीयर करते हैं। नेहा कुमारी उन्हीं में से एक हैं। नेहा ने नौकरी के साथ-साथ बीपीएससी की तैयारी की और पहले प्रयास में परीक्षा को पास कर लिया। उसने 124वां रैंक मिली है। उसका चयन सोशल सिक्योरिटी विभाग में असिस्टेंट डायरेक्टर के पद पर चयन हुआ है। हालांकि, उनका लक्ष्य यूपीएससी की परीक्षा क्लीयर करना है। समस्तीपुर शहर से सटे धुरलख निवासी विष्णुदेव झा व आशा देवी की सबसे छोटी पुत्री है। सफलता पर पिता ने कहा कि बेटी का बीपीएसी में सफलता मिलने से उनका दिल बहुत ही प्रफुल्लित हुआ है। उन्हें अपनी पुत्री पर बहुत की गर्व है। जीजाजी राकेश कुमार रौशन कहते है कि नेहा शुरू से ही पढ़ाई में काफी मेहनत करती थी। बीपीएससी की परीक्षा में पहली बार में सफलता मिलने से पूरे परिवार में खुशी का माहौल है।

नौकरी के दौरान चलती रही तैयारी

नेहा ने नौकरी के साथ ही परीक्षा की तैयारी जारी रखी। उसने पहले ही प्रयास में परीक्षा को क्लियर कर लिया। वह नौकरी के साथ-साथ पढ़ाई पर भी पूरा फोकस करते हुए अपनी तैयारी की थी। बीपीएससी की परीक्षा की तैयारी के लिए कोई कोचिंग ज्वाइन नहीं की। उन्होंने सेल्फ स्टडी की बदौलत की पहली बार प्रयास किया और परीक्षा में सफलता हासिल की। वह कहती हैं कि अक्सर लोग सोचते हैं कि परीक्षा करने के लिए कोचिंग जरूरी है, जो पूरी तरह गलत है। सेल्फ स्टडी पर फोकस कर सफलता हासिल की जा सकती है।

दूसरे अभ्यर्थियों को नेहा का सक्सेस मंत्र

नौकरी करने के साथ ही उन्होंने बीपीएससी की तैयारी की और सफलता हासिल करके खुद को साबित किया। नेहा का कहना है कि अगर शेड्यूल बनाकर पूरे सिलेबस को कवर करके और बार-बार रिवीजन करके परीक्षा दिया जाए तो सफलता से कोई नहीं रोक सकता हैं। नेहा का मानना है कि सफलता प्राप्त करने के लिए आपके पास जितने रिसोर्स हैं उन्हीं का इस्तेमाल करें। आज के जमाने में आपके पास इंटरनेट उपलब्ध है जिसकी मदद लेकर आप अपनी तैयारी कर सकते हैं। उनके मुताबिक आप अपने सिलेबस को खत्म करने के बाद जितना ज्यादा आंसर राइटिंग की प्रैक्टिस करेंगे उतना आपके लिए बेहतर होगा। इसके अलावा सही दिशा में लगातार मेहनत करें। यही आपको सफलता दिलाएगी।

धनबाद में सांख्यिकी अधिकारी के पद पर कर रही नौकरी

नेहा की प्राइमरी शिक्षा धनबाद में हुई। इसके बाद रांची के सेंट जेवियर्स से गणित में स्नातक की। फिर आइआइटी धनबाद से गणित व कंप्यूटिंग से स्नातकोत्तर की। इसके बाद 2015 में एसएससी के स्नातक लेवल परीक्षा में चयनित हुइ। फिर 2016 में केंद्र सरकार अंतर्गत सांख्यिकी अधिकारी के पद पर योगदान दिया। फिलहाल धनबाद में श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के कार्यालय में कार्यरत है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.