मुजफ्फरपुर: आत्मसंयम के दम पर साहिल ने जीत ली कोरोनावायरस से जंग

नियमित रूप से चिकित्सक द्वारा बताई गई दवाओं, काढ़ा व गर्म पानी का सेवन किया।

मुरौल प्रखंड की हरसिगपुर लौतन पंचायत के ढोली बाजार के बिरजू अग्रवाल के पुत्र शाहिल बुखार आने पर मुरौल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गए। वहां कोरोना जांच कराने पर रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद वे होम आइसोलेशन में चले गए।

Ajit KumarSun, 09 May 2021 10:45 AM (IST)

मुजफ्फरपुर, जासं। संयम व आत्मविश्वास के बल पर कोरोना की जंग जीत ली। लोग संयम से रहें और घर से तभी निकलें जब जरूरी काम हो। यह कहना है कोरोना से जंग जीतने वाले ढोली बाजार निवासी साहिल अग्रवाल का। मुरौल प्रखंड की हरसिगपुर लौतन पंचायत के ढोली बाजार के बिरजू अग्रवाल के पुत्र शाहिल बुखार आने पर मुरौल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गए। वहां कोरोना जांच कराने पर रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद वे होम आइसोलेशन में चले गए। नियमित रूप से चिकित्सक द्वारा बताई गई दवाओं, काढ़ा व गर्म पानी का सेवन किया। अब वे पूरी तरह से स्वस्थ हैं। उन्हें कोई परेशानी नहीं। संयमित हो कर खान-पान पर ध्यान दें, विजय अवश्य प्राप्त होगी। पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर डरें नहीं, डटकर मुकाबला करें।

शिक्षाविद के निधन पर जताया शोक

कांटी(मुजफ्फरपुर), संस : क्षेत्र के अकुराहां हरिहर निवासी शिक्षाविद रामबालक सिंह के असामयिक निधन पर पूर्व मंत्री अजीत कुमार ने गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि रामबालक बाबू का निधन हमारे समाज के लिए अपूरणीय क्षति है। उनका संपूर्ण जीवन एक प्रख्यात शिक्षाविद एवं समाजसेवी के रूप में हम सबको सदा याद रहेगा। मुखिया इंद्रमोहन झा, लखेंद्र शाह, पैक्स अध्यक्ष रंजीत चौधरी, नंदकिशोर सिंह, दीपक कुमार शाही, शंभू साह, ई. नंदन, रामनाथ गुप्ता, मंकू पाठक, सुजीत कुमार, पूर्व सरपंच मुन्ना ठाकुर, पैक्स अध्यक्ष अशोक ठाकुर, नागेंद्र पंडित, मो. शमीम ,पूर्व मुखिया मोतिउर रहमान , बिहारी सिंह अशोक पासवान, पैक्स अध्यक्ष मिट्ठू पांडे, समाजसेवी सुमन कुमार सिंह, पप्पू सिंह ,निरज कुमार सिंह, दीपक सिंह, सोनू सिंह आदि ने भी उनके निधन पर शोक जताया है। इधर, पूर्व मंत्री व जदयू नेता सौरभ कुमार साहेब ने फोटो जर्नलिस्ट वीरेंद्र विश्वकर्मा के पुत्र के असामयिक निधन पर भी गहरा शोक व्यक्त किया। 

यह भी पढ़ें : Mother's Day 2021: ममता की छांव से दूर कर बेटे को दे रहीं सेवा की सीख, अनोखी है समस्तीपुर के एक मां की दास्तां

यह भी पढ़ें : Awesome Love: मरते दम तक नहीं छोड़ा साथ, पति के निधन के कुछ ही घंटों बाद पत्नी ने भी त्याग दिए प्राण 

यह भी पढ़ें : पश्चिम बंगाल चुनाव 2021 में दीदी की पार्टी ने मारी बाजी, मुजफ्फरपुर के नेताजी का बदला सुर

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.