मुजफ्फरपुर : सरमस्तपुर पंचायत में 25 दिनों में 35 लोगों की गई जान, मौत के कारणों का पता नहीं!

सरमस्तपुर पंचायत में 25 दिनों में 35 लोगों की मौत। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Muzaffarpur News सकरा प्रखंड की सरमस्तपुर पंचायत में 25 दिनों में 35 लोगों की मौत हो चुकी है। मौत के कारणों का पता अब तक नहीं चला है। सामान्य मौत की तरह लोग दाह संस्कार कर रहे हैं। आज पंचायत में लगाया जाएगा शिविर कराई जाएगी कोरोना की जांच।

Murari KumarMon, 17 May 2021 10:43 AM (IST)

मुजफ्फरपुर, जागरण संवाददाता। सकरा प्रखंड की सरमस्तपुर पंचायत में 25 दिनों में 35 लोगों की मौत हो चुकी है। मौत के कारणों का पता अब तक नहीं चला है। सामान्य मौत की तरह लोग दाह संस्कार कर रहे हैं। मरने वालो में किसी की भी जांच नहीं हुई और न ही उनका सरकारी अस्पताल में इलाज चला है। कुछ लोगों का गांव में स्थित निजी अस्पताल में इलाज होने से कारणों का पता नहीं चल सका है। मुखिया प्रमोद गुप्ता ने बीडीओ को इसकी जानकारी दी। इस पर बीडीओ ने स्वास्थ्य प्रबंधक से बात करके पंचायत में कैंप लगाकर कोरोना की जांच कराने के लिए कहा है। उन्होंने आशंका जताई कि कहीं मौत का कारण कोरोना तो नहीं है। 

मुखिया ने बताया कि 20 अप्रैल को सुरेंद्र कुमार की मौत हो गई थी। ग्रामीणों ने सामान्य मौत मानकर शव का अंतिम संस्कार कर दिया। देखते ही देखते 15 मई तक भाग्य नारायण सिंह, रामनरेश सिंह, मो.मोमीन, मो.नईम, लालदेव सिंह, सुकदेव शर्मा, गीता देवी, विपिन कुमार, गोपी पासवान, सकल देव राय, मनोज कुमार, इंद्र देव सिंह, जटई सिंह, रामदेव सिंह, लखन सिंह, शिव कुमारी देवी, सुशीला देवी, भाग्य नारायण महतो, अवधेश सिंह, मो.रेयाजुद्दीन, मो.उसमान, धनमंती देवी, प्रशांत कुमार, चंदेश्वर भगत, शारील सावंत, मुखिया देवी, महेंद्र सिंह, शिव कुमारी देवी, सटहु राय, गणेश सिंह, रजिया देवी, रामपडी देवी, पियारी देवी, योगेंद्र राम की मौत हो गई। इसमे प्रशांत कुमार व शारील सावंत की मौत सड़क दूर्घटना में हुई थी। मुखिया का कहना है कि मृतकों की उम्र 20 से लेकर 70 वर्ष तक है। बीडीओ के निर्देश पर सोमवार को कैंप लगाकर कोरोना की जांच की जाएगी। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.