फिटनेस के लिए मुजफ्फरपुर शहर ने लगाई दौड़, ली फिट इंडिया की शपथ

फ्रीडम रन के पश्चात इंडोर स्टेडियम में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें राजकिशोर एवं टीम ने बिहार दर्शन पर लोक गीत प्रस्तुति किया। राधा रमण एवं टीम के द्वारा सपनों के बिहार विषय पर नाटक का मंचन किया गया।

Ajit KumarSun, 26 Sep 2021 08:20 AM (IST)
आजादी के अमृत महोत्सव पर फिट इंडिया फ्रीडम रन-टू का आगाज। फोटो- जागरण

मुजफ्फरपुर, जासं। नेहरू युवा केंद्र की ओर से आयोजित आजादी के अमृत महोत्सव पर फिट इंडिया फ्रीडम रन-टू का शनिवार को आगाज किया गया। समाहरणालय परिसर में डीडीसी आशुतोष द्विवेदी ने फ्रीडम रन को हरी झंडी दिखाई। यह दौड़ सिकंदरपुर स्टेडियम पर समाप्त की गई। कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य फिटनेस के प्रति जागरूकता पैदा करना है। इससे पहले डीडीसी ने फिट इंडिया की शपथ दिलाई। 

एमडीडीएम की मीनाक्षी प्रथम स्थान पर

फ्रीडम रन के पश्चात इंडोर स्टेडियम में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें राजकिशोर एवं टीम ने बिहार दर्शन पर लोक गीत प्रस्तुति किया। राधा रमण एवं टीम के द्वारा सपनों के बिहार विषय पर नाटक का मंचन किया गया। नेहरू युवा केंद्र एवं राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा आयोजित पेंङ्क्षटग प्रतियोगिता के प्रत्येक कालेज के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय विजेताओं की पेंङ्क्षटग प्रदर्शित की गई। सभी विजेताओं में जिला स्तर पर एमडीडीएम की मीनाक्षी प्रथम, नीतीश्वर कालेज की दुर्गा द्वितीय एवं एमपी साइंस कालेज के अभिनव तीसरे स्थान पर रहे। कार्यक्रम में एलएस कालेज के प्राचार्य डा. ओपी राय, एसडीओ पूर्वी ज्ञान प्रकाश, जिला खेल पदाधिकारी जय नारायण कुमार, डीपीआरओ कमल ङ्क्षसह, एनसीसी 32 बिहार बटालियन के कमांङ्क्षडग आफिसर लेफ्टिनेंट कर्नल एके ङ्क्षसह, जीविका की डीपीएम अनीशा, मुशहरी सदर सीडीपीओ मंजू कुमारी, बिहार विवि के एनएसएस के सेवा योजना समन्वयक, नेहरू युवा केंद्र के राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक आदि ने भाग लिया।

एनओसी के चक्कर में फंसी 234 करोड़ की सीवरेज व ड्रेनेज योजना

जागरण संवाददाता, मुजफ्फरपुर : स्मार्ट सिटी मिशन के तहत 234 करोड़ की ड्रेनेज एवं सीवरेज सिस्टम निविदा के लिए तैयार है। लेकिन योजना की राहत में एनओसी की बाधा खड़ी हो गई है। योजना के तहत सिकंदरपुर मन दाउदपुर कोठी मोहल्ला के आसपास बूढ़ी गंडक नदी किनारे जिस जगह पर एसटीपी (स्ट्राम वाटर ट्रीटमेंट प्लांट) निर्माण होना है, वह जमीन लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण (पीएचईडी) व एक अन्य विभाग की है। मुजफ्फरपुर स्मार्ट सिटी की तरफ से इसके लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र की मांग की गई, लेकिन विभाग ने देने से मना कर दिया। इससे प्रोजेक्ट का टेंडर को तत्काल रोक दिया गया है। स्मार्ट सिटी के प्रबंध निदेशक एवं नगर आयुक्त विवेक रंजन मैत्रेय की तरफ से शनिवार को एनओसी के लिए जिलाधिकारी को पत्र लिखा गया है ताकि, इसका जल्द से जल्द एनओसी मिल जाए। एनओसी मिलने के बाद ही टेंडर की प्रक्रिया होगी। दूसरी तरफ, प्रोजेक्ट पर आखिरी निर्णय लेने के लिए 30 को होनेवाली स्मार्ट सिटी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की मीङ्क्षटग में भी इसका प्रस्ताव शामिल किया गया है।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.