Muzaffarpur Central Bank Loot: गन प्वाइंट पर 10 मिनट में खाली कर दिया बैंक

गांव की भाषा में आपस में सभी बात कर रहे थे सभी अपराधी। फोटो : जागरण

Muzaffarpur Central Bank Loot बैंक से निकलने के बाद ग्रहकों के सुनाई आपबीती। बैंक ग्राहकों ने बताया कि चलान फार्म को देखते ही अपराधियों ने पहले इनसे लूटपाट की। फिर कैश काउंटर पर जाकर लूटपाट की। ग्राहकों ने कहा कि कुछ मास्क तो कई हेलमेट लगाए थे।

Publish Date:Thu, 14 Jan 2021 09:19 AM (IST) Author: Ajit kumar

मुजफ्फरपुर, जासं। Muzaffarpur Central Bank Loot: गन प्वाइंट पर लुटेरों ने दस मिनट में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया को खाली कर दिया। लुटेरों के भागने के बाद बैंक में बंद ग्राहक बाहर निकले तो अपनी जुबानी पूरी घटना के बारे में बताया। अपराधी के बोलचाल की भाषा से लेकर क्या-क्या बातचीत कर रहे थे। इसके बारे में मीडिया को बताया। भुताने पंचायत के पीडीएस दुकानदार सहित तीन लोगों से लुटेरों द्वारा हथियार के बल पर राशि लूट ली गई थी। ये तीनों लोग में रुपये जमा करने व पीडीएस का चलान जमा करने को बैंक में गए थे। महुली गांव के पीडीएस दुकानदार शिव शंकर राय अपने दुकान के खाद्यान्न आवंटन के लिए राशि लेकर बैक पहुंचे थे। वे पीडीएस दुकान के लिए 29 हजार का चलान जमा करने गए थे। वहीं दो लोग अपने बैंक खाता में राशि जमा करने को गए थे। जिसमें गरहा के राजदेव पासवान से पांच हजार रुपये व बसौली जगन्नाथ गांव के रत्नेश राय से दस हजार लूटे गए है। बैंक ग्राहकों ने बताया कि चलान फार्म को देखते ही अपराधियों ने पहले इनसे लूटपाट की। फिर कैश काउंटर पर जाकर लूटपाट की। ग्राहकों ने कहा कि कुछ मास्क तो कई हेलमेट लगाए थे। गांव की भाषा में आपस में सभी बात कर रहे थे। इस दौरान एक राउंड फायरिंग की भी बात बताया गया। लेकिन इसका प्रमाण नहीं मिला है। 

मुंह बंद रखो, नहीं तो गोली मार देंगे

बैंक में लूटपाट के दौरान अपराधियों ने पैसा जमा और निकासी करने आए लोगों को धमकी देते हुए कहा कि मुंह बंद रखों। नहीं तो गोली मार देंगे। निकासी को बैंक में पहुंचे पटियासा के हरिश्चंद्र राय, अमनौर की फुलन देवी सहित चार ग्राहक के होश उड़ गए थे।

बैंक लूट मामले में जमादार व चौकीदार निलंबित

अहियापुर थाना क्षेत्र के गरहा में बैंक से लूट मामले में लापरवाही के आरोप में जमादार व चौकीदार को निलंबित कर दिया गया है। एसएसपी जयंत कांत ने बताया कि जमादार मनोज कुमार द्वारा बैंक में प्रतिनियुक्त चौकीदार के अनुपस्थिति की जानकारी वरीय अधिकारी को नहीं दी गई। इसके लिए उन्हें निलंबित किया गया है। वहीं बैंक में अपने डयूटी से गायब रहने वाले चौकीदार सकिंद्र राम को भी निलंबित कर दिया गया है। इसके अलावा चेकिंग प्वाइंट पर डयूटी से गायब रहने वाले ब्रहमपुरा थाने के दारोगा ओम प्रकाश प्रसाद को भी निलंबित कर दिया गया है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.