सीतामढ़ी ज‍िले के सोनबरसा में मुखिया प्रत्याशी के घर डाका, रिश्तेदार को मारी गोली

Sitamarhi Crimeसीतामढ़ी ज‍िले में आए द‍िन हो रहींं डकैती की घटनाएं। अब मुख‍िया प्रत्‍याशी के घर भीषण डकैती की घटना हुई है। घर में रखे कैश सोना और चांदी के गहने लेकर फरार हो गए बदमाश। पुल‍िस कर रही मामले की जांच पड़ताल।

Dharmendra Kumar SinghSat, 04 Dec 2021 03:25 PM (IST)
डकैती की घटना होने की जानकारी म‍िलने पर जुटे स्‍थानीय लोग। जागरण

सोनबरसा (सीतामढ़ी), जासं। भारत-नेपाल सीमा क्षेत्र में परिहार के बेला थाने में दो दिन पूर्व डकैती के बाद शुक्रवार देर रात सोनबरसा प्रखंड में डकैतों ने धावा बोला। सोनबरसा पंचायत के वार्ड नंबर-तीन पटेल नगर में पैक्स अध्यक्ष विरंजन महतो और यहां से मुखिया प्रत्याशी उनकी पत्नी मीना देवी के घर भीषण डकैती हुई। ढाई लाख रुपये कैश, 11 भर सोना व चांदी लूट ले गए। घर के सदस्यों के चार मोबाइल भी ले गए। हरवे-हथियार से लैस डकैत 25 से 30 की संख्या में थे। डकैती के बाद घर से बाहर निकले डकैतों काे घेरने के लिए जब मीना देवी के भगीना रितेश ने शोर मचाया तो उसको उठाकर पटक दिया और जांघ में गोली मार दी।

डकैती से पहले मुखिया प्रत्याशी के आसपास के घरों के दरवाजों की कुंडी डकैतों ने बंद कर दी थी ताकि, लाेग बाहर न निकल सके। इसके बाद डकैत इसी मोहल्ले में ही लूटी गई संपत्ति में बंटवारा भी करने लगे। हिस्सेदारी को लेकर उनके बीच कहासुनी और झगड़ा भी हुआ। डकैतों की ये सारी करतूत उस सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गई जो मुखिया प्रत्याशी के घर पर लगा हुआ था। डकैत कच्छा-बनियान पहने हुए थे और अपना चेहरा ढंक रखा था। पुलिस सूत्रों के अनुसार, डकैत नेपाल में प्रवेश कर गए।लूटे गए मोबाइल के टावर लोकेशन के आधार पर सर्लाही जिला मुख्यालय मलंगवा तक पता डकैतों का लोकेशन मिला।

पटेल नगर से मलंगवा आधा किलोमीटर की दूरी पर ही अवस्थित है। यह घटना रात साढ़े बारह बजे हुई। लगभग 15 मिनट तक लूटपाट हुई। बताया जाता है कि ढाई दर्जन की संख्या में डकैत आए थे। जिन्होंने मोहल्ले के अन्य घरों की कुंडी लगाई। उसके बाद बाहर पहरा देने लगे। एक दर्जन डकैत पैक्स अध्यक्ष और उनकी पत्नी मुखिया प्रत्याशी के घर का मेन गेट तोड़कर घुसे। घर के तमाम सदस्यों को बंधक बना लिया। सबसे पहले उनके मोबाइल ले लिए। सदस्यों पर हथियार तान दी। पैक्स अध्यक्ष की बहू से पांव में पहनी हुई चांदी की पायल खुलवा ली। सूचना पर सदर एसडीपीओ रमाकांत उपाध्याय, सोनबरसा थानाध्यक्ष रवींद्र कुमार तुरंत पहुंच गए। एसएसबी मुख्यालय से खोजी कुत्ते बुलाकर सुराग ढूंढ़ने की कोशिश की गई। खोजी कुत्ता भी मलंगवा बॉर्डर जाकर ठहर गया। गौरतलब है कि सोनबरसा, कन्हौली हो अथवा परिहार व बेला सभी इलाका इंडो-नेपाल बॉडर से आधा से एक किलोमीटर की दूरी पर ही है। इससे स्पष्ट है कि उधर के लुटेरे डकैती की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं और खुली सीमा होने का लाभ उठाकर भाग निकलते हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.