मधुबनी के नरुआर में चुनावी हिंसा में एक दर्जन से अधिक जख्मी

नवनिर्वाचित मुखिया के पति सहित 26 ज्ञात एवं 40-50 अज्ञात के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज। पराजित मुखिया प्रत्याशी एवं नवनिर्वाचित मुखिया प्रत्याशी के स्वजनों व समर्थकों में हुई सीधी भिड़ंत कई जख्मी डीएमसीएच रेफर। पंचायत चुनाव परिणाम घोषित होते ही दोनों पक्ष आपस में उलझ पड़े।

Ajit KumarPublish:Sun, 28 Nov 2021 10:08 AM (IST) Updated:Sun, 28 Nov 2021 10:08 AM (IST)
मधुबनी के नरुआर में चुनावी हिंसा में एक दर्जन से अधिक जख्मी
मधुबनी के नरुआर में चुनावी हिंसा में एक दर्जन से अधिक जख्मी

झंझारपुर ( मधुबनी), संस। भैरवस्थान थाना के नरुआर गांव में चुनावी हिंसा में करीब एक दर्जन लोग जख्मी हो गए। जख्मी में दोनों पक्ष के लोग शामिल हैं। चुनाव परिणाम घोषित होते ही दोनों पक्ष आपस में उलझ पड़े। दोनों पक्षों के अपने -अपने तर्क हैं। हालांकि, पुलिस के अनुसंधान में ही सच्चाई का पता लग पाएगा। पराजित मुखिया प्रत्याशी राखी चौधरी के जेठ राघव चौधरी ने इस संबंध में नवनिर्वाचित मुखिया पूजा मिश्रा के पति सहित 26 ज्ञात एवं 40-50 अज्ञात के विरंद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई है।

घर में घुसकर हमला कर दिया

प्राथमिकी दर्ज कराने वाले पराजित मुखिया राखी चौधरी के जेठ का दावा है कि निर्वाचित मुखिया के पति सुजीत कुमार मिश्र एवं उनके समर्थक अशोक मिश्रा, सोहनजी झा, गंगामोहन झा, अजय मिश्रा सहित 26 लोग जिनका नाम प्राथमिकी में दर्ज है सहित अन्य 40 से 50 लोग जीत की सूचना पर उनके घर के नजदीक से गुजर रहे थे और अचानक लाठी, डंडा, गड़ासा से उनके घर में घुसकर हमला कर दिया। जिसमें महादेव मुखिया एवं शिवशंकर चौधरी घायल हो गए। उसने कहा कि जीत के जश्न में उनलोगों ने हमला किया।

इधर, नवनिर्वाचित मुखिया पूजा मिश्रा के पति पूर्व मुखिया सुजीत कुमार मिश्र ने बताया कि जीत की सूचना पर वे अपने समर्थकों के साथ दुर्गा मंदिर पहुंचे। वहां माथा टेककर योगी बाबा को प्रणाम करने जा रहे थे कि निवर्तमान मुखिया राखी चौधरी के जेठ राघव चौधरी एवं उनके दर्जनों समर्थकों ने पहले रोड़ा बरसाया, उसके बाद गड़ासा एवं लाठी, डंडा से हमला कर दिया। साथ ही छत से मिर्च का पाउडर व चूना फेंका। इस हमला में उनके समर्थक चंद्रकांत राय, सीताराम यादव, अमरनाथ राय, चंद्रशेखर झा एवं गोलू राय घायल हो गए। सभी का इलाज डीएमसीएच में चल रहा है। पूर्व मुखिया सुजीत कुमार मिश्र ने बताया कि पराजय वे लोग पचा नहीं पा रहे हैं।