दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

बिहार के मुजफ्फरपुर में ऑक्सीजन @ 300 और रेमडेस‍िव‍िर @ 1299, इस तरह संभव हो रहा यह सब

मांग में अचानक बढ़ोतरी होने से कुछ ही दिनों के अंदर इनकी कीमत आसमान छूने लगी है।

Remdesivir injection availability near me कोरोना की इस विषम स्थिति में पूरे देश में ऑक्सीजन और रेमडेसिविर के लिए मनमानी कीमत वूसली जा रही है किंतु मुजफ्फरपुर जिला प्रशासन ने इसकी कीमत तय कर दी है। ऑक्सीजन 300 और रेमडेसिविर इंजेक्शन 1299।

Ajit KumarFri, 07 May 2021 12:49 PM (IST)

मुजफ्फरपुर, ऑनलाइन डेस्क। Remdesivir injection availability near me: कोरोना की दूसरी लहर ने देश की चिकित्सा व्यवस्था को पूरी तरह से हिला कर रख दिया है। यूं तो सभी मेडिकल उत्पादों की कमी है, लेकिन ऑक्सीजन व रेमडेसिविर के लिए तो हाहाकार है। मनमानी कीमतें वसूली जा रही हैं। इस स्थिति में मुजफ्फरपुर जिला प्रशासन अपनी सक्रियता के दम पर ऑक्सीजन सिलेंडर 300 रुपये व रेमडेसिविर 1299 रुपये में उपलब्ध करवा रहा है। यह वाकई चमत्कार है। ऑक्सीजन व रेमडेसिविर की मांग में अचानक बढ़ोतरी होने से कुछ ही दिनों के अंदर इनकी कीमतें आसमान छूने लगी हैं। डॉक्टर किसी मरीज के लिए ऑक्सीजन व रेमडेसिविर की जरूरत बताते हैं तो पहले इसकी उपलब्धता खत्म बताई जाती है। मनुहार करने के बाद तीन सौ की चीज की कीमत 30 हजार बताकर दी जा रही है। यही हाल रेमडेसिविर का है। एक इंजेक्शन को 50 हजार तक में बेचा गया। यह मुजफ्फरपुर और बिहार की कहानी नहीं है। पूरे देश में यही आलम है। इसके एक या दो नहीं वरन सैकड़ों उदाहरण हैं। जिसमें मरीज के स्वजन बताते हैं कि किस तरह से ऑक्सीजन और रेमडेसिविर की अनुपलब्धता बताकर उनसे हजार गुना अधिक कीमत वूसली गई।

इस विषम स्थिति के बीच मुजफ्फरपुर जिला प्रशासन ने अनोखी पहल की है। ऑक्सीजन व रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी पर लगाम लगाने के लिए अपनी पूरी टीम को ही मैदान में उतार दिया है। इसकी आपूर्ति होने से लेकर वितरण होने तक की पूरी व्यवस्था मजिस्ट्रेटों की निगरानी में कराई जा रही है। यहां के ऑक्सीजन प्लांटों पर मजिस्ट्रेट की 24 घंटे ड्यूटी लगा दी गई है। जो अस्पतालों व मरीजों की मांग और उसे की जाने वाली अापूर्ति पर नजदीक से नजर बनाए हुए रहते हैं। इतना ही नहीं प्रशासन ने इसकी दर भी तय कर दी है। डीएम व सिविल सर्जन की टीम इसकी निगरानी कर रही है। प्रशासन की ओर से तय कीमत के अनुसार बड़े सिलेंडर की रिफिलिंग दर 300 रुपये व छोेटे सिलेंडर की 100 रुपये निर्धारित की है। ऐसा नहीं है कि यह हवा-हवाई है। मरीजों के स्वजनों को वैध दस्तावेज के साथ इसे उपलब्ध कराया जा रहा है। इसी तरह से सदर अस्पताल में रेमडेसिविर इंजेक्शन मरीजों को लाइन में लगाकर1299 रुपये में दी जा रही है। सरकारी अस्पताल के लिए यह नि:शुल्क है। वर्तमान हालत में प्रशासन की ओर से कीमत पर इस तरह के नियंत्रण को चमत्कार ही कहा जा सकता है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.