समस्तीपुर के विभूतिपुर थानाध्यक्ष समेत 15 के विरुद्ध न्यायालय में अभियोग पत्र दायर

12 सितम्बर की रात्रि अभियुक्तगण परिवादी के घर जाकर गली-गलौज मारपीट व लूटपाट करते हुए महिला के साथ गलत व्यवहार कर परिवादी को गिरफ्तार कर लिया। नाजायज ढंग से हिरासत में रखा। ऐसा किए जाने से सामाजिक प्रतिष्ठा का हनन और पांच लाख रुपये नुकसान होने का आरोप लगाया है।

Ajit KumarWed, 15 Sep 2021 09:43 AM (IST)
सामाजिक प्रतिष्ठा का हनन और पांच लाख रुपये नुकसान होने का लगाया आरोप।

समस्तीपुर, जासं। विभूतिपुर थाना क्षेत्र के डीह बोरिया गांव निवासी श्याम सिंह के पुत्र लालबाबू सिंह ने अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी द्वितीय रोसड़ा के न्यायालय में एक अभियोग पत्र दायर किया है। जिसमें विभूतिपुर थानाध्यक्ष चंद्र कांत गौरी, एसआई नवीन कुमार और चौकीदार अरुण पासवान समेत 10 -12 पुलिस बल को अभियुक्त बनाया है। परिवादी ने कहा है कि वह विभूतिपुर थाना कांड संख्या 159/17 का अभियुक्त और इसमें जमानत पर है। किसी कारण वश पूर्व में बंध पत्र विखंडित हो गया था। विखंडित होने के बाद पुलिस पदाधिकारी द्वारा गिरफ्तार कर विशेष न्यायालय उत्पाद विभाग समस्तीपुर प्रेषित कराया गया। जिसमें परिवादी जमानत पर रहता चला आ रहा है। विगत 12 सितम्बर की रात्रि अभियुक्तगण परिवादी के घर जाकर गली-गलौज, मारपीट व लूटपाट करते हुए महिला के साथ गलत व्यवहार कर परिवादी को गिरफ्तार कर लिया। उसे नाजायज ढंग से पुलिस हिरासत में रखा गया। परिवादी ने पुलिस द्वारा ऐसा किए जाने से सामाजिक प्रतिष्ठा का हनन और पांच लाख रुपये नुकसान होने का आरोप लगाया है।

अंग्रेजी शराब के साथ दो धंधेबाज गिरफ्तार

विभूतिपुर थाना क्षेत्र के देसरी कर्रख में पुलिस ने छापेमारी कर 13 बोतल अंग्रेजी शराब के साथ दो धंधेबाज को गिरफ्तार किया है। यह जानकारी प्रभारी थानाध्यक्ष राजीव लाल पंडित ने दी। बताया कि इस मामले में राम भरोस चौरसिया और सुनील कुमार महतो की गिरफ्तारी हुई है। एएसआई दिनेश कुमार सिंह के बयान पर स्थानीय थाने में एक कांड अंकित कर आरोपित को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। 

उपद्रवी एवं असामाजिक तत्वों को चिह्नित कर शुरू करें कार्रवाई

मुजफ्फरपुर : पारदर्शी एवं शांतिपूर्ण पंचायत चुनाव को लेकर डीएम प्रणव कुमार ने मंगलवार को सभी कोषांगों के वरीय एवं नोडल पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि निर्वाचन कार्यों में थोड़ी भी लापरवाही एवं शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। पंचायत चुनाव में विधि-व्यवस्था को लेकर आवश्यक कदम उठाने को कहा। निर्देश दिया कि असामाजिक एवं चुनाव को प्रभावित करने वाले उपद्रवी तत्वों को चिह्नित कर उनके विरुद्ध अभी से कार्रवाई सुनिश्चित करें। प्रखंड स्तर पर भी कोषांग पूरी सक्रियता के साथ कार्य करे। उन्होंने बारी-बारी से सभी कोषांगों द्वारा किए गए कार्य की समीक्षा की। साथ ही आवश्यक निर्देश दिए।

डीएम ने कहा कि सभी कोषांग के वरीय एवं नोडल पदाधिकारी अपने कार्यों के निर्वहन में गंभीरता बरतें। आयोग के निर्देश के अनुसार ही कार्य करें। मतगणना कार्य के संचालन के लिए भी कई निर्देश दिए। उन्होंने मतदान मतगणना केंद्रों पर आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने एवं मतगणना का कार्य को सफलतापूर्वक संचालन को लेकर पदाधिकारियों को टैग करने का निर्देश दिया। स्वीप कोषांग के नोडल पदाधिकारी को पंचायत निर्वाचन के संबंध में मूलभूत जानकारी मतदाताओं एवं अभ्यर्थियों को देने को कहा गया। इसके लिए सेविका/सहायिका के माध्यम से पंचायत स्तर पर जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिए। मीडिया कोषांग को निर्देश दिया गया कि आयोग के दिशा-निर्देश के आलोक में आवश्यक कार्यों का निष्पादन करे। बैठक में डीडीसी आशुतोष द्विवेदी, सहायक समाहर्ता श्रेष्ठ अनुपम, डीआरडीए निदेशक चंदन चौहान, जिला पंचायती राज पदाधिकारी सुषमा कुमारी, डीपीओ आइसीडीएस चांदनी ङ्क्षसह, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी कमल ङ्क्षसह, डीआइओ नवीन कुमार सुमन आदि मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.