top menutop menutop menu

जमकर बरसे बादल, नदियों के जलस्तर में उफान

मुजफ्फरपुर। जिले में लगातार जारी बारिश से मौसम का मिजाज बदल गया है। शुक्रवार की अलसुबह इलाके में जमकर बारिश हुई। पिछले 24 घंटे में कुल 13.7 मिमी बारिश रिकार्ड की गई। जुलाई में 285 मिमी सापेक्ष बारिश के विरुद्ध अबतक 106.4 मिमी बारिश हो चुकी है। पूरे दिन बादल छाए रहे। तेज हवाएं चलती रहीं। इससे गर्मी से राहत मिली। अधिकतम 29.4 व न्यूनतम तापमान 19.6 डिग्री रहा। इधर, मौसम विभाग ने तीन दिनों तक भारी बारिश और वज्रपात का अलर्ट जारी किया है। अगले दो दिनों तक पूरवा तथा उसके बाद पछिया हवा चलने का अनुमान है। इस अवधि में औसतन 15-20 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चलेगी। लगातार जारी वर्षा से उत्साहित किसान धान की रोपाई व बुआई, सब्जी की खेती और बागवानी की तैयारी में लगे हैं। अबतक 75 फीसद धान की रोपी हो चुकी है। औराई में सर्वाधिक 42.4 मिमी बारिश जिले के औराई प्रखंड में सर्वाधिक 42.4 मिमी बारिश हुई है। जबकि, मीनापुर, मोतीपुर और मुरौल का इलाका सूखा रहा। बंदरा में 3.4, बोचहां में 9.4, गायघाट में 32.0, कांटी में 6.0, कटरा में 35.4, कुढ़नी में 4.2, मड़वन में 13.6, मुशहरी में 8.2, पारू में 2.0, साहेबगंज में 43.2, सकरा में 5.4 व सरैया में 19 मिमी बारिश रिकार्ड की गई। जलस्तर में उतार-चढ़ाव जारी

इलाके में जारी बारिश के बीच शुक्रवार को नदियों के जलस्तर में उतार-चढ़ाव जारी रहा। अलसुबह जहां जलस्तर सामान्य रहा, वहीं शाम ढलते ही जलस्तर में वृद्धि होने लगी है। औराई के कटौझा में शुक्रवार को बागमती नदी का जलस्तर खतरे के निशान से 1.73 मीटर अधिक रहा। यहां जलस्तर 55.23 मीटर दर्ज किया गया। जबकि बेनीबाद में बागमती नदी का जलस्तर 48.00 मीटर दर्ज किया गया। सिकंदरपुर में बूढ़ी गंडक नदी का जलस्तर 49.80 मीटर व रेवाघाट में गंडक नदी का जलस्तर 53.19 मीटर पर स्थिर रहा। इधर, जल संसाधन विभाग और आपदा प्रबंधन विभाग की टीम बाढ़ की स्थिति और तटबंधों पर नजर बनाए हुए है। उधर, वाल्मिकीनगर बराज से कुल 121500 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। बारिश के मद्देनजर अधिकारियों की टीम अलर्ट

मौसम विभाग और आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा जिले में अगले तीन दिनों के लिए भारी बारिश और वज्रपात का अलर्ट जारी किया गया है। इसके मद्देनजर डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने सभी विभागों के अधिकारियों को अलर्ट पर रखा है। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम भी 24 घंटे एक्शन मोड में है। डीएम के निर्देश पर नगर निगम की टीमें नालों की सफाई में जुटी हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.