top menutop menutop menu

साहेबगंज में घरों में घुसा गंडक का पानी

मुजफ्फरपुर। साहेबगंज में गंडक नदी के जलस्तर में वृद्धि से लोगों के घरों में पानी प्रवेश कर चुका है जिससे लोगों का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। सीओ राकेश कुमार, प्रखंड मुखिया संघ अध्यक्ष अनिल यादव तथा समाजसेवी रविन्द्र यादव ने बाढ़ग्रस्त माधोपुर हजारी ,बंगरा निजामत, रुपछपरा तथा हुस्सेपुररत्ति का दौरा कर प्रभावित इलाकों में सरकारी भुगतान पर नाव व नाविक देने का आश्वासन दिया। माधोपुर हजारी में 6 ,बंगरा निजामत में 6, रुपछपरा में दो तथा हुस्सेपुररति में तीन नाव चलाने का आदेश सीओ ने दिया। सीओ ने माधोपुर हजारी में पानी से डूबे जलापूíत योजना के भवन व उपकरण को देखा। बंगरा निजामत पंचायत के वार्ड नं दस की स्थित भयावह है जहा लगभग 20 परिवार के बीच दो सौ लोग अपने ही घरों मे चारों तरफ से पानी के बीच घिरे हुए हैं। पूर्व मुखिया हरेंद्र सिंह ने बताया कि लोग केरोसिन ड्राम को बांध उसके उपर बैठ जोखिम भरी यात्रा कर रहे हैं। आधा किमी छाती भर पानी हेलकर लोग गाव से मुख्य मार्ग तक पहुंच रहे हैं। बीमार लोगों के उपचार हेतु गाव में डॉक्टर जाने में असमर्थ हैं। बगरा निजामत पंचायत के कई ऐसे वार्ड हैं जहां सड़क पार कर पानी बह रहा है।

औराई में लखनदेई के टूटे तटबंध से रिसाव : लखनदेई नदी के औराई व विशनपुर में टूटे तटबंध में रिसाव होने से प्रखंड के औराई, नयागाव, रतवारा पश्चिमी, रतवारा पुर्वी, भलूरा, आलमपुर सीमरी, रामपुर, विशनपुर गोखुल समेत एक दर्जन पंचायतों में पानी जमा होने से फसलें पूरी तरह नष्ट हो चुकी हैं। लखनदेई नदी के पानी के दबाव से रामपुर- शभूता सड़क टूट चुकी जिससे हजारों लोगों का आवागमन बाधित हो गया है। रामपुर गाव स्थित अफ़रोज़ अहमद के ईंट भट्ठे में पानी प्रवेश कर जाने से लाखों रुपए की क्षति हुई है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.