आश‍िक का प्रेम‍िका के साथ खौफनाक खेल, पांच दोस्‍तों ने म‍िलकर क‍िया सामूह‍िक दुष्‍कम, समस्‍तीपुर में चार ग‍िरफ्तार

समस्‍तीपुर में एक छात्रा से सामूह‍िक दुष्‍कर्म का सनसनीखेज मामला सामने आया है। छात्रा को व‍िश्‍वास में लेकर प्रेमी सहित पांच लोगों ने घटना को अंजाम द‍िया। साथ ही उसका वीड‍ियो भी बनाया। पांचवां अपराधी कैलाश की गिरफ्तारी को छापेमारी जारी है।

Dharmendra Kumar SinghSun, 19 Sep 2021 06:42 PM (IST)
समस्‍तीपुर में छात्रा से सामूहि‍क दुष्‍कर्म में चार आरोप‍ित ग‍िरफ्तार। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

समस्‍तीपुर, जासं। रोसड़ा में छात्रा के साथ हैवानियत की हद पार करने वाले आरोपितों ने दुष्कर्म करने के साथ-साथ वीडियो बनाने से भी परहेज नहीं की। पीडि़ता के तथाकथित प्रेमी मनीष द्वारा किए गए दुष्कर्म का वीडियो ही पुलिस को हाथ लगी। एसडीपीओ ने बताया कि राम ललित के मोबाइल से पप्पू ने ही उक्त वीडियो बनाने की बात स्वीकारी है। पुलिस की तत्परता से इन हैवानों द्वारा वीडियो वायरल नहीं किया जा सका। जानकारी के अनुसार मनीष को छोड़ सभी आरोपी शादीशुदा हैं।

बतातेे चलें क‍ि दो दिन पूर्व विभूतिपुर थाना क्षेत्र में एक नाबालिग छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म मामले में पुलिस ने चार दुष्कर्मी को गिरफ्तार कर लिया। इसमें पीडि़त किशोरी का तथाकथित प्रेमी मनीष भी शामिल है। वहीं पांचवां आरोपी अभी तक पुलिस की पकड़ से बाहर है। जेल भेजे गए 4 अभियुक्तों में विभूतिपुर थाना के कोदरिया निवासी शिव नारायण महतो का पुत्र मनीष कुमार (20), स‍िंघिया बुजुर्ग दक्षिण के बिहारी ठाकुर का पुत्र दिलीप ठाकुर (30), पंचवटी चौक स‍िंधिया के रामलाल स‍िंह का पुत्र राम ललित स‍िंह (26), एवं शिवनाथपुर के राम जतन स‍िंह का पुत्र पप्पू कुमार (23) शामिल है।

वहीं सलखनी निवासी रामप्रकाश महतो का पुत्र कैलाश महतो (40) पुलिस पकड़ से बाहर है। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी शहरियार अख्तर ने बताया कि सभी अभियुक्त अपराधी प्रवृत्ति के और अवैध कारोबार से जुड़े हैं। पीडि़ता द्वारा विभूतिपुर थाना पर पहुंच घटना की जानकारी देने के बाद पुलिस अधीक्षक ने एसडीपीओ की अगुवाई में एक टीम गठित की थी एवं अभियुक्तों को त्वरित गिरफ्तारी का निर्देश दिया। टीम में शामिल विभूतिपुर थाना के प्रभारी थानाध्यक्ष राजीव लाल पंडित, पुअनि नवीन कुमार एवं सकलदीप प्रसाद, सअनि दिनेश कुमार स‍िंह तथा महिला थाना के सअनि वशिष्ठ कुमार द्वारा लगातार छापामारी के बाद 4 अभियुक्तों को एक-एक कर गिरफ्तार कर लिया गया। पांचवें कैलाश की गिरफ्तारी के लिए छापामारी जारी है। कैलाश के विरुद्ध पूर्व से भी आम्र्स एक्ट एवं चोरी आदि से संबंधित 3-3 मामला दर्ज है। उन्होंने विभूतिपुर पुलिस की भूमिका को सराहनीय करार देते हुए पुरस्कृत करने के लिए अनुशंसा की बात भी कही।

एसडीपीओ ने पीडि़त किशोरी को मनीष कुमार से पूर्व से परिचित बताया। कहा कि मनीष द्वारा ही उसे विश्वकर्मा पूजा के दिन घुमाने के लिए रोसड़ा ले जाया गया। वहां से लौटने के क्रम में दिलीप ठाकुर एवं कैलाश महतो द्वारा घटनास्थल के निकट दोनों को रोका और राम ललित एवं पप्पू को बुलाकर सभी ने एक साथ हैवानियत का परिचय दिया।

दुष्कर्म, पॉक्सो व आईटी एक्ट के तहत दर्ज हुआ मामला

दुष्कर्म पीडि़त छात्रा के बयान पर महिला थाना में पांच आरोपितों के विरुद्ध दुष्कर्म एवं पॉक्सो तथा आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। प्राथमिकी संख्या 77/2021 में सभी को भादवि की धारा 376 (डी)(ए)/363/ 366(ए)/34 एवं 4/6 पॉक्सो एक्ट तथा 67(ए) आईटी एक्ट में आरोपित किया गया है। एसडीपीओ ने बताया कि पांचों अभियुक्तों को पुलिस द्वारा अधिक से अधिक सजा दिलाने का प्रयास किया जाएगा। ताकि भविष्य में इस प्रकार की घटना को अंजाम देने से पूर्व हैवानों को सोचने पर मजबूर होना पड़े।

घर से निकले बच्चों की सुधि नही लेना च‍िंतनीय

अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी शहरियार अख्तर ने आए दिन हो रही इस तरह की घटनाओं के बावजूद माता पिता एवं स्वजनों द्वारा घर से निकले बच्चों की सुधि नहीं लेना च‍िंतनीय बताया। उन्होंने इस घटना में भी इस तरह की पारिवारिक उदासीनता बताते हुए कहा कि नाबालिग बेटी घर से बाहर हो और देर शाम तक वापस नहीं लौटने के बावजूद किसी प्रकार की खोजबीन या इत्तला नहीं देना परिवार के सदस्यों के बच्चों के प्रति लापरवाही को दर्शाता है। उन्होंने क्षेत्र के सभी अभिभावकों से अपने अपने बच्चों खासकर किशोरावस्था के छात्र छात्राओं पर निश्चित रूप से विशेष नजर रखने की अपील की है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.