औराई में ओटीपी लेकर बीज दुकान का चक्कर लगा रहे किसान

औराई में ओटीपी लेकर बीज दुकान का चक्कर लगा रहे किसान

गेहूं की बोआई का समय बीतता जा रहा है। औराई प्रखंड के किसान बीज लेने के लिए ओटीपी लेकर प्रतिदिन बीज क्रय प्वाइंट का चक्कर लगाकर खाली हाथ घर लौट रहे हैं।

Publish Date:Wed, 02 Dec 2020 02:27 AM (IST) Author: Jagran

मुजफ्फरपुर। गेहूं की बोआई का समय बीतता जा रहा है। औराई प्रखंड के किसान बीज लेने के लिए ओटीपी लेकर प्रतिदिन बीज क्रय प्वाइंट का चक्कर लगाकर खाली हाथ घर लौट रहे हैं। इससे उनकी खेती एक बार फिर चौपट होती नजर आ रही है। खरीफ की फसल बर्बाद होने के बाद किसानों की उम्मीद रबी की फसल पर टिकी थी। नवंबर बीतने के बाद भी प्रखंड के आधे किसानों ने गेहूं के बीज के अभाव में खेती नहीं की है। प्रतिदिन प्रखंड कार्यालय स्थित ई. किसान भवन में बीज के लिए किसानों की लंबी कतारें लगती हैं। दो-तीन दिनों के अंतराल पर बीज विक्रेता कामेश्वर राय मात्र 20 से 25 किसानों को गेहूं का बीज देकर खानापूरी कर लेते हैं। वहीं बचे किसान निराश होकर लौट जाते हैं। किसान व उपप्रमुख शैलेंद्र शुक्ला ने बताया कि समय पर गेहूं की खेती नहीं होने से उत्पादन पर असर पड़ेगा। इसका खामियाजा किसानों को भुगतना पड़ेगा। स्वामी सहजानंद किसान संगठन के प्रखंड अध्यक्ष लक्ष्मण ठाकुर ने बताया कि औराई प्रखंड के सहिलावल्ली, परमजीवर ताराजीवर, सरहंचिया, जनार, अमनौर, अतरार, महेशवारा समेत नौ पंचायतों में विगत 10 दिनों से किसी किसान को गेहूं का बीज नहीं मिला है। इससे किसानों में आक्रोश है। किसान सोहन कुमार, रामजतन राय, आकाश यादव, विरेंद्र कुमार आदि ने प्रखंड में बीज वितरण कर रहे कामेश्वर राय के कíमयों पर निर्धारित मूल्य से अधिक राशि लेने का आरोप लगाया है।

प्रखंड कृषि पदाधिकारी शभू चौधरी ने बताया कि उपलब्धता के अनुसार किसानों को गेहूं के बीज का वितरण किया जा रहा है। बचे हुए किसानों को भी जल्द ही बीज उपलब्ध कराया जाएगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.