महाभियान के बाद भी मुजफ्फरपुर में मात्र 50 हजार लोगों को ही लगा कोरोना का टीका

जिला प्रशासन स्वास्थ्य विभाग समेत 7 विभागों के करीब 10000 से अधिक अधिकारी व कर्मचारी महाभियान में लगे थे। हालांकि कई स्थानों पर देरी से टीका पहुंचने की बात भी सामने आयी है। 755 केंद्रों में कई पर देर शाम तक लोगों को टीका दिया गया।

Ajit KumarFri, 29 Oct 2021 06:44 AM (IST)
एक सप्ताह से चलाया जा रहा था जागरूकता अभियान।

मुजफ्फरपुर, जागरण संवाददाता। जिले में टीकाकरण महाभियान के तहत गुरुवार को महज 50 हजार टीका लगाया गया जबकि लक्ष्य 2.60 लाख को टीका लगाने का था। टीकाकरण महाअभियान को लेकर एक सप्ताह से चलाया जा रहा जागरूकता अभियान। इसके बाद भी लक्ष्य से काफी कम संख्या में लोग टीका लेने पहुंचे। जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग समेत 7 विभागों के करीब 10000 से अधिक अधिकारी व कर्मचारी महाभियान में लगे थे। हालांकि कई स्थानों पर देरी से टीका पहुंचने की बात भी सामने आयी है। 755 केंद्रों में कई पर देर शाम तक लोगों को टीका दिया गया। डीएम प्रणव कुमार , डीडीसी , सिविल सर्जन समेत कई वरीय अधिकारियों के अलावे सभी पंचायतों में सीनियर डिप्टी कलेक्टर टीकाकरण की मॉनिटरिंग में जुटे रहे ।

एईएस के दौरान जिन गांवों को जो अधिकारी गोद लिए थे, वे वहंा सुबह 7 बजे ही पहुंच गए। एक-एक व्यक्ति को केंद्र तक लाने की तमाम प्रयास किए। लेकिन समय समाप्त होने पर भी मात्र 50000 लोगों को ही टीका दिया जा सका। सिविल सर्जन डॉ विनय कुमार शर्मा ने बताया कि सुबह 7 बजे ही सभी सेशन साइट शुरू हो गया। एक-एक घर जाकर कर्मी लोगों से टीका लेने का अनुरोध किया, लेेकिन लोग घर से निकलना नहीं चाहते है। डीएम, डीडीसी समेत सभी जिला स्तरीय अधिकारी संबंधित पीएचसी में पहुंच गए थे। बावजूद इसके 50000 के करीब शाम 7 बजे तक टीकाकरण हो सका। सीएस ने कहा कि जो लोग टीका लेने से वंचित रह गए है, उनकी सूची बनायी जा रही है। 7 नवंबर को फिर महाभियान चलाकर टीकाकरण कराया जाएगा। अभियान में यूनिसेफ, डब्लूएचओ, केयर के प्रतिनिधि के अलावे स्वास्थ्य विभाग के कई अधिकारियों की टीम के साथ आंगनबाडी सेविका, एएनएम, आश, विकास मित्र, जीविका समेत बडी संख्या में कर्मियों ने टीकाकरण महाभियान में टारगेट पूरा करने के लिए डटे रहे।  

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.