East Champaran: संग्रामपुर में पैसे के लेन देन के कारण अठारह सौ दाखिल खारिज पेंडिंग

संग्रामपुर में पैसे के लेन देन के कारण अठारह सौ दाखिल खारिज पेंडिंग

पूर्वी चंपारण के संग्रामपुर अंचल कार्यालय में आरटीपीएस के माध्यम से दो वितीय वर्षों में स्थानीय लोगो द्वारा दाखिल खारिज के लिए दिए गए आवेदन में लगभग अठारह सौ दाखिल खारिज पेंडिंग हैं। पूर्व प्रमुख ने कहा- दाखिल खारिज में चलता है पैसा का खेल।

Murari KumarSun, 28 Feb 2021 02:55 PM (IST)

पूर्वी चंपारण, जागरण संवाददाता। ज‍िले के संग्रामपुर अंचल कार्यालय में आरटीपीएस के माध्यम से दो वितीय वर्षों में स्थानीय लोगो द्वारा दाखिल खारिज के लिए दिए गए आवेदन में लगभग अठारह सौ दाखिल खारिज पेंडिंग हैं। दाखिल खारिज के लिए आवेदन देने वाले लोग पिछले दो सालों से इसके लिए दौड़ लगा लगाकर थक चुके हैं लेकिन कोई भी संबंधित राजस्व कर्मचारी लोगो का बात सुनने को तैयार नहीं हैं। सरकार ने दाखिल खारिज में मिलनेवाली शिकायतों के कारण इसके निष्पादन के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू की गई मगर वह भी संग्रामपुर अंचल के लिए नकारा साबित हो रहा हैं।

 अब सवाल यह उठ रहा कि आखिर किन किन कारणों से अठारह सौ दाखिल खारिज पेंडिंग हैं इसे कोई बताने को तैयार नहीं। हालांकि, अंचल कार्यालय का कहना है कि चौदह राजस्व ग्राम के लिए बालेश्वर प्रसाद,योगेंद्र राय व कृष्ण कुमार श्रीवास्तव पदस्थापित हैं। जिसके कारण यह समस्या उतपन्न हुई हैं। जबकि दाखिल खारिज से जुड़े कई आवेदन कर्ताओं का कहना हैं कि ऐसा बिचौलिए और राजस्व कर्मचारियों के यहां अटर्नी के रूप में कार्य कर रहें लोगो को रिश्वत नही देने के चलते विभिन्न तरह के आरोप लगा कर दाखिल खारिज को पेंडिंग रखा गया हैं।

इस बारे में संग्रामपुर के पूर्व प्रमुख कुमार धनंजय ने कहा क‍ि यहां के राजस्व कर्मचारी स्थानीय लोगो के अर्टनी रख कर काम करवाते हैं। इनके माध्यम से वसूली होती हैं। जो पैसा देता हैं उसका निष्पादन होता हैं जो नहीं देते पेंडिंग रख दिया जाता हैं।

  वहीं, संग्रामपुर के सीओ सुरेश पासवान ने कहा क‍ि पेंडिंग पड़े दाखिल खारिज का बहुत जल्द निपटारा होगा।

यह भी पढ़ें: East Champaran: जदयू की महिला जिलाध्यक्ष ने अपने ही दल के नेता पर लगाया हत्या की साजिश का आरोप

यह भी पढ़ें: पश्‍च‍िम चंपारण: दार्जिल‍िंग से रामनगर पहुंची प्रेमिका, मंद‍िर में रचाई शादी, पुजारी ने किया कन्यादान

यह भी पढ़ें: Darbhanga Airline Service: एयरपोर्ट का स्वरूप बदलने के ल‍िए 78 एकड़ जमीन की खोज शुरू

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.