पूर्वी चंपारण के डुमरियाघाट में आग लगने से आठ घर जलकर राख, नकदी समेत लाखों की क्षति

राजस्व कर्मचारी ने क्षति का आकलन करते हुए सरकारी सहायता दिलाने की बात कही।
Publish Date:Mon, 26 Oct 2020 10:41 AM (IST) Author: Ajit Kumar

पूर्वी चंपारण, जेएनएन। डुमरियाघाट थाना क्षेत्र की डुमरिया पंचायत अन्तर्गत चंपारण तटबंध के समीप वार्ड नंबर चार में रविवार देर रात भयंकर आग लग गई। इस घटना में आठ घर जलकर राख हो गए। घटना के संबंध में बताया गया है कि रविवार की देर रात ग्रामीण राजवंशी महतो के घर में चूल्हे से अचानक आग लग गई। धीरे-धीरे आग ने भयंकर रूप ले लिया। आग की लपटों ने अगल-बगल के सभी घरों को अपनी चपेट में ले लिया। 

लाखों रुपये का अनाज नष्ट

आसपास के ग्रामीणों ने पहुंचकर आग बुझाने का भरपूर प्रयास किया। इस अगलगी में लाखों रुपए मूल्य के अनाज, बर्तन और कपड़ा समेेत नकदी और अन्य समान जलकर राख हो गए। इस अग्निकांड में पीड़ित राजू महतो के इलाज के लिए ग्रामीणों द्वारा चंदा एकत्रित कर जमा किया हुआ पचास हजार रुपये भी आग की भेंट चढ़ गये। सूचना पर अरेराज से पहुंचकर अग्निशमन दस्ते की टीम ने ग्रामीणों के सहयोग से आग पर काबू पाया। अग्निपीड़ितों में राजवंशी महतो, छोटन महतो, राजू महतो, लालदेव महतो, बृजेश महतो, रूपेश महतो, मोख्तार मियां और रजाक मियां शामिल है। वहीं सोमवार की सुबह पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि प्रमोद यादव ने वहां पहुंचकर पीड़ितों का हाल चाल लिया। वही सभी पीड़ितों को तत्काल सहायता मुहैया करते हुए चूड़ा, गुड़, तिरपाल, माचिस, प्लास्टिक, बर्तन आदि का वितरण किया। वहीं राजस्व कर्मचारी कृष्णकांत श्रीवास्तव ने भी पहुंचकर पीड़ितों की सूची बनाकर क्षति का आकलन करते हुए सभी को सरकारी सहायता दिलाने की बात कही।

सबसे बड़ा सवाल- अब कैसे होगा राजू का इलाज

अग्निपीड़ितों में राजू काफी दिनों से बीमार व लाचार है जिसका पटना में इलाज चल रहा है। उसी के इलाज को लेकर ग्रामीणों ने चंदा इक्कट्ठा कर पचास हजार रुपया उसे दिया था। उन पैसों को लेकर वह इलाज के लिए पटना जाने वाला था तब तक यह हादसा हो गया। अब पीड़ित परिवार के सामने बहुत बड़ा संकट आ पड़ा है। आशियाना भी जल गया और जिंदगी बचाने के लिए इलाज में रखा पैसा भी चला गया।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.