कोरोना संक्रमण के लक्षणों को न छिपाएं, न घबराएं, समय से उपचार से बचेगी जान

80 से 90 फीसद मरीज घर पर रहकर एवं दवा खाकर ठीक हुए हैं।

बीमारी का लक्षण नजर आते ही सबसे पहले इसकी जांच कराएं। रिपोर्ट पॉजिटिव आए तो न घबराएं और न डरें। तुरंत खुद को घर के सभी लोगों से अलग कर लें। चिकित्सक की सलाह से दवा शुरू करें। कोरोना के उपचार में होम आइसोलेशन सबसे कारगर।

Ajit KumarTue, 18 May 2021 10:50 AM (IST)

मुजफ्फरपुर, जासं। कोरोना से लडऩे में सबसे कारगर उपाय होम आइसोलेशन है। बीमारी का लक्षण आने पर न इसे छिपाएं न घबराएं। समय से उपचार व संयम से कोरोना को मात दिया जा सकता है। 80 से 90 फीसद मरीज घर पर रहकर एवं दवा खाकर ठीक हुए हैं। सर्जन डॉ. एमएल हक ने कहा कि बीमारी का लक्षण नजर आते ही सबसे पहले इसकी जांच कराएं। रिपोर्ट पॉजिटिव आए तो न घबराएं और न डरें। तुरंत खुद को घर के सभी लोगों से अलग कर लें। चिकित्सक की सलाह से दवा शुरू करें। कोरोना होने का मतलब यह नहीं कि अस्पताल में भर्ती होना है। घर पर ही इसका उपचार हो सकता है। कुछ घरेलू उपचार भी इसमें मददगार होते हैं। ऑक्सीजन लेबल व बुखार की जांच करते रहे। आक्सीजन लेबल 92 से कम हो, सांस लेने में परेशानी हो तो ही अस्पताल में भर्ती हों। इससे बचने के लिए सतर्क रहें। अपने घरों में ही रहें। जब बाहर जाना बहुत ही आवश्यक हो तभी मास्क लगाकर, निश्चित शारीरिक दूरी बनाकर ही घरों से बाहर जाएं। 

डरे नहीं, धैर्य व हिम्मत से हारेगा कोरोना

सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार, सांस लेने में तकलीफ, जोड़ों में दर्द, अत्यधिक थकावट, मांसपेशियों में अकडऩ आदि हो तो अपने को घर के किसी कमरे में आइसोलेट कर लें। चिकित्सक की सलाह से सूप, काढ़ा, चाय-काफी, गर्म पानी, गर्म दूध आदि लेना शुरू करें। कम से कम चार से पांच लीटर पानी पिये। गुनगुने पानी से स्नान करें एवं फ्रिज के सामान खाने से परहेज करें। सुबह-शाम भाप लें और नमक पानी गुनगुना करके गलाला करें। आक्सीजन की नियमित जांच करें। अगर घर में ऑक्सीमीटर नहीं हो तो सांस को 14-18 सेकेंड रोक कर चेक करें। नकारात्मक बातों और घटनाओं से अपने आपको दूर ही रखें। पौष्टिक व संतुलित आहार से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएं। दलिया, जूस, नींबू पानी, मूंग दाल, सब्जी का सूप बेहतर विकल्प है। सुबह में एक गिलास गर्म पानी नींबू के साथ लें। रात में पानी में चार-पांच बादाम फुलाकर सुबह खाएं। इससे प्रोटीन की कमी नहीं होगी। चाय पीते हैं तो उसके साथ बिस्किट ले सकते हैं। खाने का रूटीन ऐसा हो कि वह आसानी से पच सके और शरीर को आवश्यक मिनरल भी मिल जाएं। गर्म दूध हल्दी मिलाकर सोने से पहले लें। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.