अभियान चलाकर करें राशि की वसूली : डीएम

अभियान चलाकर करें राशि की वसूली : डीएम

डीएम प्रणव कुमार ने शनिवार को आंतरिक संसाधन की समीक्षा बैठक की।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 01:40 AM (IST) Author: Jagran

मुजफ्फरपुर : डीएम प्रणव कुमार ने शनिवार को आंतरिक संसाधन की समीक्षा बैठक की। कई विभागों में राजस्व वसूली की स्थिति बेहतर नहीं पाए जाने पर अभियान चलाकर राजस्व की वसूली का निर्देश दिया।

परिवहन : वार्षिक लक्ष्य 224 करोड़ के विरुद्ध 118 करोड़ 97 लाख की वसूली की गई है। विगत 15 दिनों में लगभग 16 करोड़ की वसूली की गई है। डीएम ने कार्य में कोताही नहीं बरतने का निर्देश दिया।

खनन : जिला खनन अधिकारी ने बताया कि वार्षिक लक्ष्य 31.92 करोड़ के विरुद्ध वसूली 12.94 करोड़ हुई है।

राष्ट्रीय बचत : वार्षिक लक्ष्य 175 करोड़ के विरुद्ध 155 करोड़ रुपये की वसूली की गई है।

भूमि विकास बैंक : वसूली की स्थिति अच्छी नहीं थी। लक्ष्य 10 करोड़ 89 लाख के विरुद्ध वसूली मात्र 58 लाख की गई। बताया गया कि कोरोना के मद्देनजर वसूली की गति धीमी रही है।

नगर निगम : वार्षिक लक्ष्य 25.71 करोड़ के विरुद्ध 7.82 करोड़ की ही वसूली हुई है। यह लक्ष्य का मात्र 30 फीसद है। निर्देश दिया गया कि अभियान चलाकर निर्धारित लक्ष्य को प्राप्त करना सुनिश्चित करें। लक्ष्य और वसूली की अपडेट स्थिति की रिपोर्ट उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया।

माप-तौल : वार्षिक लक्ष्य दो करोड़ आठ लाख के विरुद्ध 84 लाख रुपये की वसूली की गई है। निर्देश दिया गया कि सभी दुकानों का सत्यापन करना सुनिश्चित करने को कहा गया। पीडीएस एवं कपड़े की दुकान, पेट्रोल पंप के सत्यापन को कहा गया। कार्य के प्रति गंभीरता नहीं बरतने वालों को कार्रवाई की चेतावनी दी गई।

सैरात : 214 सैरातों को त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था को हस्तांतरित किया गया था। इसमें 26 सैरात जिला परिषद को, 17 पंचायत समिति को और 171 पंचायतों को हस्तांतरित कराया गया था। सभी सैरातों की बंदोबस्ती की लगातार मानीटरिग को कहा गया।

निबंधन : जिला अवर निबंधक ने बताया कि वार्षिक लक्ष्य 264 करोड़ का है। इसके विरुद्ध वसूली 127 करोड़ की हो पाई है। कम वसूली का कारण कोविड-19 को बताया गया। उन्होंने बताया कि निर्धारित अवधि के अंदर लक्ष्य को प्राप्त किया जाएगा।

विद्युत : कार्यपालक अभियंता, विद्युत शहरी-एक ने बताया कि मासिक लक्ष्य 11 करोड़ 70 लाख के विरुद्ध वसूली 14 करोड़ 50 लाख रुपये की हुई है। यह 115 फीसद है। वहीं वार्षिक उपलब्धि 93 फीसद है। कार्यपालक अभियंता शहरी-दो ने बताया कि मासिक लक्ष्य 13.50 करोड़ के विरुद्ध वसूली 15 करोड़ 60 लाख रुपये की हुई है। वार्षिक लक्ष्य के 66 फीसद है। कार्यपालक अभियंता पूर्वी की वार्षिक लक्ष्य के विरुद्ध वसूली 42 फीसद एवं कार्यपालक अभियंता पश्चिमी की 61 प्रतिशत रही।

बैठक में अपर समाहर्ता राजेश कुमार, डीपीआरओ कमल सिंह समेत विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय पदाधिकारी मौजूद थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.