Darbhanga News: यहां फर्श पर बैठकर ज्ञान ग्रहण करते पहली से पांचवीं तक के बच्‍चे

Darbhanga News बेनीपुर के उत्क्रमित मध्य विद्यालय हटिया गाछी में तीन कमरों में आठ वर्ग के विद्यार्थियों को पढ़ाने में शिक्षकों को होती मुश्किल जमीन के अभाव में नहीं हो पा रहा है वर्ग कक्ष का निर्माण तीन कमरे सीनियर वर्ग के छात्र-छात्राओं की पढ़ाई के लिए।

Dharmendra Kumar SinghSun, 05 Dec 2021 05:34 PM (IST)
उत्‍क्रमित मध्य विद्यालय हटिया गाछी के बरामदे पर फर्श पर बैठाकर छात्र-छात्राओं को पढ़ाती शिक्षिका। जागरण

दरभंगा (बेनीपुर), जासं। बेनीपुर का उत्क्रमित मध्य विद्यालय हटिया गाछी। यहां कक्षा एक से आठवीं तक की पढ़ाई तीन कमरों में होती है। इन कमरों के बरामदे का भी उपयोग वर्ग कक्ष सजाने के लिए किया जाता है। दरअसल विद्यालय को भवन के अलावा अपनी जमीन नहीं है, सो वर्ग कक्ष का निर्माण कार्य वर्षों से नहीं हो पा रहा। नतीजतन ठंड के मौसम में वर्ग एक पांचवीं तक के विद्यार्थी बरामदे के फर्श पर बैठकर शिक्षा ग्रहण करते हैं। वहीं छठी से आठवीं तक के छात्र विद्यालय तीन कमरों में पढ़ते हैं। इन समस्याओं के बीच पठन-पाठन के प्रति विद्यार्थी व शिक्षकों की गंभीरता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 70 से 75 प्रतिशत छात्र परीक्षा पास कर पाते हैं।

दिसंबर का महीना, सितंबर तक का ही मिला चावल

दिसंबर का महीना चल रहा है, लेकिन ब'चों को अबतक सितंबर तक का ही चावल मध्याह्न भोजन के तहत मिला है। बताते हैं कि बेनीपुर एसएफसी गोदाम से सितंबर तक के ही मध्याह्न भोजन का चावल विद्यालय को उपलब्ध कराया गया है।

विभिन्न प्रतियोगिताओं में ब'चों ने बनाई पहचान

विद्यालय के ब'चे विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं को लेकर भी संजीदा रहते हैं। नशा मुक्ति दिवस पर बेहतर भाषण देने के लिए वर्ग आठ के छात्र नुनू कुमार को शिक्षा विभाग के डीपीओ ने पुरस्कृत किया था। वहीं जिला स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी में बेहतर प्रदर्शन के लिए इसी कक्षा की छात्रा वर्षा कुमारी को सम्मान मिला और वह राज्य स्तरीय विज्ञान प्रर्दशनी के लिए चयनित की गईं हैं।

कुल 425 विद्यार्थियों के लिए ग्यारह शिक्षक

विद्यालय में कुल 425 विद्यार्थियों को पढ़ाने के लिए ग्यारह शिक्षक पदस्थापित हैं। शुक्रवार को कुल 151 विद्यार्थी ही स्कूल आए थे। विद्यालय के बरामदे पर महिला शिक्षक संगीता कुमारी वर्ग एक से लेकर पांत तक के छात्र छात्राओं को जमीन पर बैठाकर पढ़ा रही थीं। शिक्षक छोटेलाल पासवान वर्ग सात के छात्र छात्राओं को और प्रभारी प्रधानाध्यापक नरुल होदा वर्ग छह में पढ़ा रहे थे। कक्षा आठ में शिक्षक संजय कुमार साह ब'चों में ज्ञान बांट रहे थे। शिक्षक सुशील कुमार झा एवं राखी कुमारी विद्यालय के अन्य कार्यों को देख रहे थे। विद्यालय के कुल 11 शिक्षकों में से प्रधानाध्यापक नारायण कुमार, शिक्षक धनंजय कुमार, अभिराम कुमार, कुमारी उषा,एंव मधुबाला कुमारी को छुट्टी पर मिले। छात्र-छात्राओं की कमी उपस्थित के सवाल पर शिक्षकों ने कहा इस दिशा में काम चल रहा है।

सामान्य ज्ञान की कमी ने उठाया सवाल

वर्ग सात की छात्रा मयूरी कुमारी देश के प्रधानमंत्री, राज्य के मुख्यमंत्री एवं राज्यपाल का नाम सही बताने में कामयाब रहीं। इस बीच उन्होंने सूबे के उप मुख्यमंत्री का नाम गलत बताया। वर्ग आठ के छात्र कुमार ओम उप मुख्यमंत्री व राज्यपाल का नाम तक नहीं बता सके। छात्रा वर्षा कुमारी ने राज्यपाल व शिक्षा मंत्री व प्रतिभा कुमारी ने उप मुख्यमंत्री का नाम सही बताया। विद्यार्थियों में सामान्य ज्ञान की कमी के मुद्दे पर शिक्षक कहते हैं। इसे ठीक किया जा रहा है। काफी सुधार हुआ है।

वर्ग कक्ष के अभाव में फर्श पर होती है पढ़ाई

व्यवस्था के सवाल पर प्रभारी प्रधानाध्यापक नुरुल होदा ने बताया कि वर्ग कक्ष के अभाव में वर्ग एक से लेकर पांचवीं तक के ब'चों को बरामदे पर पढ़ाया जा रहा है। छात्र-छात्राओं को बेसिक ज्ञान तो नियमित रूप से दिया जाता हैं, लेकिन कुछ भूल जाते हैं। इसे ठीक किया जा रहा है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.