मुजफ्फरपुर एसएसपी व सदर थानाध्यक्ष के विरुद्ध सीजेएम कोर्ट में परिवाद

एसएसपी जयंतकांत व सदर थाना के तत्कालीन थानाध्यक्ष सत्येंद्र कुमार सिन्हा के विरुद्ध सीजेएम कोर्ट में परिवाद दाखिल किया गया है। इस परिवाद को सदर थाना के मादापुर चौबे निवासी कुमार हर्ष ने दाखिल किया है।

JagranPublish:Wed, 28 Jul 2021 06:59 PM (IST) Updated:Wed, 28 Jul 2021 06:59 PM (IST)
मुजफ्फरपुर एसएसपी व सदर थानाध्यक्ष के विरुद्ध सीजेएम कोर्ट में परिवाद
मुजफ्फरपुर एसएसपी व सदर थानाध्यक्ष के विरुद्ध सीजेएम कोर्ट में परिवाद

मुजफ्फरपुर। एसएसपी जयंतकांत व सदर थाना के तत्कालीन थानाध्यक्ष सत्येंद्र कुमार सिन्हा के विरुद्ध सीजेएम कोर्ट में परिवाद दाखिल किया गया है। इस परिवाद को सदर थाना के मादापुर चौबे निवासी कुमार हर्ष ने दाखिल किया है। इसमें उन्होंने दोनों लोगों पर अभद्र भाषा का प्रयोग करने का आरोप लगाया है। सीजेएम कोर्ट ने परिवाद को सुनवाई पर रखा है। इसके लिए तीन अगस्त की तारीख मुकर्रर की गई है।

ये लगाए आरोप : कुमार हर्ष ने परिवाद में कहा है कि 17 मई को उसके पड़ोसी कमलकृष्ण पांडेय के यहां कोई आयोजन था। इसमें काफी तेज आवाज में डीजे बजाया जा रहा था। उनकी मां बीपी की मरीज हैं। तेज आवाज से उनकी तबीयत बिगड़ने लगी। उन्होंने पड़ोसी से कई बार धीमी आवाज में डीजे बजाने का अनुरोध किया, लेकिन इसका कोई असर नहीं हुआ। इस पर उन्होंने मोबाइल से सदर थानाध्यक्ष सत्येंद्र कुमार सिन्हा के सरकारी मोबाइल फोन पर इसकी सूचना दी। सारी बात सुनने के बाद उन्होंने अभद्र भाषा का प्रयोग करना शुरू कर दिया। इसकी शिकायत एसएसपी जयंतकांत से की तो उन्होंने भी अभद्र भाषा का प्रयोग किया। अगले दिन जब वे सदर थानाध्यक्ष से मिलने थाने पर गए तो वह परिसर से बाहर ही मिल गए। शिकायत करने पर मारपीट व अभद्र भाषा का प्रयोग किया। जब थाने पर गए तो वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने उन्हें भगा दिया। इसकी शिकायत वरीय पुलिस अधिकारियों से की तो सदर थानाध्यक्ष सुलह करने का दबाव देने लगे। ऐसा नहीं करने पर मुकदमे में फंसाकर बर्बाद करने की धमकी दी।