मुजफ्फरपुर में यादगार रही मैट्रिक परीक्षा, इम्तिहान में गूंजी दो नवजातों की किलकारी, जानिए पूरा मामला

सदर अस्पताल में अपनी नानी की गोद में बच्ची ।

Muzaffarpur news मुजफ्फरपुर के एमडीडीएम कॉलेज परीक्षा सेंटर पर एक अजीबों मामला सामने आया। यहां हाई स्कूल की परीक्षा देने आई शादीशुदा छात्रा ने एक बच्चे जन्म दिया जबकि अंग्रेजी का पेपर देने पहुंची बोचहां कफेन निवासी ममता कुमारी ने बच्ची को जन्म दिया।

Dharmendra Kumar SinghSat, 20 Feb 2021 08:42 PM (IST)

मुजफ्फरपुर, जागरण संवाददाता । मैट्र्रि्क परीक्षा 2021 बिहार के लिए यादगार रहा। खासतौर पर मुजफ्फरपुर के लिए यहां दो अलग-अलग परीक्षा केंद्रों पर दो छात्रााओं ने बच्चे को जन्म दिया। इससे तनाव का माहौल मुस्कान में बदल गया।  मैट्रिक परीक्षा के चौथे दिन शनिवार को दूसरी पाली में अंग्रेजी का पेपर देने पहुंचीं बोचहां कफेन निवासी सोनू कुमार की पत्नी ममता कुमारी को परीक्षा भवन में ही प्रसव पीड़ा शुरू हो गई। केंद्राधीक्षक ने महिला वीक्षक की देखरेख में उन्हें अलग कक्ष में रखा और कंट्रोल रूम के साथ ही एंबुलेंस को भी सूचना दी गई। एंबुलेंस से छात्रा को सदर अस्पताल ले जाया जा रहा था। इसी बीच केंद्र से कुछ दूरी पर ही ममता ने एंबुलेंस में ही बच्ची को जन्म दे दिया। इसके बाद उसे सदर अस्पताल ले जाया गया। वहां चिकित्सकों ने इलाज किया। बताया कि जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। 

 छात्रा की मां ने बताया कि 2016 में उसकी शादी हुई थी। उसको पूर्व से ही दो पुत्री हैं। जिस समय पीड़ा शुरू हुई उस समय उसने लिखना शुरू ही किया था। इससे परीक्षा नहीं दे सकीं। बता दें कि गुरुवार को नारायण एजुकेशन प्वाइंट पर नवराष्ट्र हाईस्कूल की छात्रा पूजा कुमारी और शुक्रवार को एमडीडीएम कॉलेज केंद्र पर शांति कुमारी को भी प्रसव पीड़ा होने पर सदर अस्पताल में ले जाया गया था। शांति ने पुत्र को जन्म दिया था। 

यह भी पढ़ें: मुजफ्फरपुर: ऑटो क‍िराया में 30 फीसद तक वृद्धि, आपकी जेब क‍ितनी कट रही, ह‍िसाब लगा लीज‍िए

ममता के पति सोनू का कहना है कि  परीक्षा में शामिल होने के लिए एंबुलेंस की व्यवस्था कराई गई । परीक्षा के दौरान बच्ची को जन्म देने की वजह से अंग्रेजी की परीक्षा वह नहीं दे सकी। अप्रैल या मई में होने वाली विशेष परीक्षा में वह शामिल होगी। ताकि उसका रिजल्ट सही आ सके। वहींं मुजफ्फरपुर के एमडीडीएम कॉलेज में परीक्षा देने वाली शांति ने बेटे को जन्म दिया था। शनिवार को उसे एंबुलेंस से परीक्षा केंद्र लाया गया। वह परीक्षा में शामिल हुई थी। केंद्र अधीक्षक के अनुसार वह पूरी तरह स्वस्थ है। परीक्षा के दौरान उसके नवजात को सेंटर पर ही एक महिला स्वजन बाहर रखी हुई थी। बच्चे के प्रति भी देखरेख कर रहे थे। 

यह भी पढ़ें :  पीएम नरेंद्र मोदी के मंत्री ने गांधी-नेहरू परिवार को लेकर दिया बड़ा बयान, लगाए ये आरोप

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.