80 से अधिक लाभान्वित वाले टोले में लगेगा शिविर, मुजफ्फरपुर में 29 अक्टूबर को चलाया जाएगा महाभियान

कोरोना टीकाकरण महाभियान के तहत वंचितों के बीच जाएगी टीम। बाइक से गांव में जाएगी टीम शत प्रतिशत टीकाकरण को लेकर पहल। लक्ष्य पूरा करने के लिए टीकाकरण की गति बढ़ाई जाएगी। जिले के 16 पीएचसी में चल रही है टीकाकरण की तैयारी।

Ajit KumarWed, 27 Oct 2021 10:23 AM (IST)
महाभियान के तहत हर घर के लोगों को कोरोना की पहली डोज देनी है।

मुजफ्फरपुर, जासं। कोरोना टीकाकरण का शत-प्रतिशत लक्ष्य पूरा करने के लिए अब वंचितों के बीच टीम जाएगी। जहां 80 लोग टीका लेने वाले होंगे वहां पर शिविर लगाया जाएगा। 29 अक्टूबर को टीकाकरण की गति बढ़ाने के लिए महाभियान चलाया जाएगा। सिविल सर्जन डा.विनय कुमार शर्मा ने बताया कि 16 पीएचसी में टीकाकरण की तैयारी चल रही है। सात नवंबर तक जिले में सौ फीसदी टीकाकरण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। महाभियान के तहत हर घर के लोगों को कोरोना की पहली डोज देनी है।

दो मोबाइल वाहन करेंगे काम

सीएस ने बताया कि आरबीएसके के दो वाहनों को हर प्रखंड में टीकाकरण के लिए लगाया गया है। साथ ही बाइक से टीकाकरण करने वाले कर्मी उनके घरों में जाएंगे, जहां चार पाहिया मोबाइल वाहन नहीं जा सकते।

30 लाख लोगों को मिला टीका

विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिले में 30 लाख लोगों को टीका दिया गया है। पांच लाख के करीब लोग टीकाकरण से वंचित हैं। केयर इंडिया के जिला समन्वयक सौरभ तिवारी ने बताया कि जहां जो लोग छूटे हैं, उन्हें खोजकर टीका दिया जाएगा। पहली व दूसरी डोज देने पर बल है।

कोविड-19 काल तथा महिला जागरूकता लाने में पत्रकारों की भूमिका सराहनीय

दरभंगा : मिशन सुरक्षाग्रह के तहत यूनिसेफ तथा बिहार सेवा समिति के संयुक्त तत्वावधान में मंगलवार को लहेरियासराय के एक निजी होटल में कोविड-19 एवं आपदा काल में प्रभारी पत्रकारिता : बच्चों व महिलाओं के मुद्दे विषय पर कार्यशाला आयोजित किया गया। इसमें स्थानीय पत्रकार, सरकारी अधिकारी और सीएम कालेज पत्रकारिता के छात्र- छात्राओं ने भाग लिया। वरिष्ठ पत्रकार सुमिता जायसवाल ने कहा कि कोरोना काल में पत्रकारों ने हर छोटी-बड़ी खबरों को प्रमुखता दी। कोविड-19 के अनुकूल व्यवहार अपनाने, बच्चों के प्रति कर्तव्य पालन एवं महिला जागरूकता लाने में पत्रकारों की भूमिका सराहनीय रही है। वे समाज को जगाने का भी सार्थक प्रयास करते हैं। आज मीडिया पर लोगों का अत्यधिक भरोसा है।

मुख्य वक्ता के रूप में सीएम कालेज के पत्रकारिता कोऑर्डिनेटर डा. आरएन चौरसिया ने कहा कि पत्रकारिता समाज की रीढ़ है, जो समाज और सरकार के बीच एक महत्वपूर्ण कड़ी है। मीडिया हमें सूचना, जागरुकता, मनोरंजन एवं सार्थक मत बनाने में मदद करता है।

रिसोर्स पर्सन आनंद कुमार ने मीडिया एथिक्स तथा फैक्ट चैङ्क्षटग के स्वरूप का वर्णन करते हुए बच्चों व महिलाओं पर रिपोर्टिंग में वर्ती जाने वाली सावधानियों की विस्तार से चर्चा की।

यूनिसेफ के राज्य मीडिया सलाहकार अभिषेक आनंद ने बिहार में बच्चों तथा किशोर-किशोरियों से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां, उनके स्रोत एवं रिपोर्टिंग की विश्वसनीयता, आंकरों एवं सूचनाओं के इस्तेमाल के महत्त्व पर व्याख्यान दिया। कार्यक्रम का संचालन डा. श्याम कुमार ङ्क्षसह ने किया। धन्यवाद ज्ञापन यूनिसेफ की कोऑर्डिनेटर शोभा कुमारी ने किया। कार्यशाला में मनीगाछी की सीडीपीओ प्रियंका, केवटी की राखी तथा घनश्यामपुर की प्रीति, बिहार सेवा समिति के सचिव विनोद कुमार, प्रोजेक्ट टीम लीडर डा. श्याम कुमार ङ्क्षसह, यूनिस की विन्सी थामस, अभिषेक आनंद, रिसॉर्ट फर्सन आनंद कुमार, यूनिफ से पटना के संचार विशेषज्ञ निपुण गुप्ता, यूनिफ दरभंगा के कोऑर्डिनेटर शोभा कुमारी सहित अन्य मौजूद थे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.