West Champaran : पश्चिम चंपारण में शराब बेचने व पीकर हंगामा करने वाले गिरफ्तार

शराब बेचने व पीकर हंगामा करने वाले गिरफ्तार ।

West Champaran crime पश्चिम चंपारण में बिहार पुलिस की छापेमारी में शराब के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया। जबकि एक व्यक्ति शराब पीकर हंगामा कर रहा था उसे गिरफ्तार का जेल भेजा दिया गया है ।

Dharmendra Kumar SinghThu, 25 Feb 2021 05:56 PM (IST)

पश्चिम चंपारण, जासं । पश्चिम चंपारण में शराब के साथ एक व्यक्ति व एक शराब पीकर हंगामा करने वाले को गिरफ्तार किया गया। छापेमारी में शराब के साथ एक शराब धंधेबाज को पुलिस ने गिरफ्तार किया। तलाशी के दौरान उसके कब्जे से 12 लीटर शराब मिली।  भैरोगंज थानाध्यक्ष जयनारायण राम ने बताया कि गश्ती के दौरान सूचना मिली कि धरमपुर गांव में शराब की बिक्री हो रही है। सूचना पर  टीम के साथ छापेमारी की गई। धरमपुर  गांव के रुदल चौधरी को 12 लीटर शराब के साथ गिरफ्तार किया गया। जिसे न्यायिक हिरासत बेतिया में भेज दिया गया है। वहीं थाना क्षेत्र के हरपुर गांव से हंगामा करते एक शराबी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। प्रभारी थानाध्यक्ष धंनजय कुमार ने बताया कि सूचना मिली कि गांव में  स्व. सुकदेव राम का पुत्र राजू राम नशे में हंगामा कर रहा है। जिसके बाद पुलिस टीम को स्थल पर भेजा गया। जहां मामला सही मिला। जांच में भी शराब के नशे में होने की पुष्टि हो गई।  एएसआइ जितेन्द्र प्रसाद गुप्ता के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। 

 नशामुक्ति के लिए इलाके में चल रहा जन-जागरूकता अभियान  

बगहा । नशामुक्त भारत अभियान के तहत गंडक पार के प्रखंडों में जन-जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। ठकराहां प्रखंड के कोईरपट्टी पंचायत में मध्य विद्यालय कोइरपट्टी के बच्चों ने प्रभातफेरी निकाली। अभियान से जुड़े स्वयंसेवक गुड्डू कुमार ने बताया कि स्कूलों में दीवार लेखन के माध्यम से नशे की लत से होने वाली बर्बादी से बच्चों को अवगत कराया जा रहा। ताकि वर्तमान के साथ साथ भावी पीढ़ी भी नशे के लत से दूर रहे। अभियान के दौरान न सिर्फ शराब बल्कि गांजा, अफीम, गुटखा, खैनी समेत अन्य नशीले पदार्थों से होने वाले नुकसान की जानकारी दी जा रही है। ताकि नशामुक्त भारत के सपने को साकार किया जा सके। श्री कुमार ने बताया कि प्रभातफेरी में शामिल बच्चों ने लोगों से नशे की लत से दूर रहने की अपील की। बच्चों ने हाथों में तख्तियां ले रखी थी जिसपर जारूकता स्लोगन लिखे गए थे। शिक्षा पदाधिकारी दशरथ पोद्दार, प्रधान शिक्षक अरङ्क्षवद कुमार जायसवाल व शिक्षक राकेश कुमार ने कहा कि निश्चित रूप से सरकार की यह मुहिम रंग लाएगी। दूसरी ओर, गुरुवार को अभियान से जुड़े स्वयंसेवकों की देखरेख में विद्यालयों में दीवार लेखन का कार्य जारी रहा। अभियान में जीविका, आंगनबाड़ी समेत अन्य कर्मियों का सक्रिय योगदान है। जीविका स्वयंसेवक बिट्टू कुमार ने कहा कि 31 मार्च तक जन जागरूकता अभियान जारी रहेगा। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.